scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

परीक्षा से बचने के लिए छात्र ने किया ऐसा काम कि चकरा गई दो राज्यों की पुलिस, परिजनों के भी उड़े होश

पुलिस उसको लेकर उस जगह गई, जहां पर छात्र ने बदमाशों के चाय पीने और खुद के निकल भागने की बात बताई थी। हालांकि पुलिस को वहां ऐसा कुछ भी नहीं मिला, जिससे उसकी बात साबित होती हो।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: संजय दुबे
नई दिल्ली | Updated: March 12, 2024 12:15 IST
परीक्षा से बचने के लिए छात्र ने किया ऐसा काम कि चकरा गई दो राज्यों की पुलिस  परिजनों के भी उड़े होश
छात्र ने पुलिस से कहा, "उसे मैथ से डर लगता है। इसलिए वह घर से भाग निकला।" (फाइल फोटो)
Advertisement

यूपी के इटावा जिले का रहने वाला दसवीं का एक छात्र मैथ की परीक्षा से बचने के लिए खुद के अपहरण का ऐसा ड्रामा रचा, जिससे दो राज्यों की पुलिस की नींद उड़ गई। हालांकि छात्र की कहानी में ऐसा झोल भी था, जिससे सच सामने आने में बहुत समय नहीं लगा और पूरे मामले का खुलासा हो गया। अपहरण की इस झूठी कहानी से पुलिस के साथ ही परिजनों के भी होश उड़ गये थे।

ग्वालियर पर आरपीएफ जवानों को मिला था परेशान छात्र

सोमवार को मध्य प्रदेश के ग्वालियर रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ जवानों को 15 साल का एक छात्र परेशान हाल में दिखा। पूछताछ में उसने खुद के अपहरण किए जाने और बड़ी मुश्किल से अपहर्ताओं से छूटकर निकलने की कहानी बताई। छात्र ने यह भी बताया है कि कार सवार बदमाशों के चंगुल में उसकी तरह के कुछ और छात्र भी हैं। इसके बाद आरपीएफ ने इसकी सूचना सिविल पुलिस को दी। बगल के पड़ाव थाने की पुलिस एक्शन में आई और स्टेशन पहुंचकर छात्र से पूरी घटना पूछी। पूछताछ में छात्र ने बताया कि स्टेशन के करीब में ही बदमाश चाय पीने के लिए रुके, इसी दौरान वह मौका पाकर निकल भागा।

Advertisement

कहानी में मिला झोल तो सामने आ गई छात्र की सच्चाई

इस पर पुलिस उसको लेकर उस जगह गई, जहां पर छात्र ने बदमाशों के चाय पीने और खुद के निकल भागने की बात बताई थी। हालांकि पुलिस को वहां ऐसा कुछ भी नहीं मिला, जिससे उसकी बात साबित होती हो। सीसीटीवी फुटेज में भी ऐसा कुछ सुराग नहीं मिला। इससे पुलिस को छात्र के बयान में ही संदेह होने लगा।

बाद में पुलिस ने छात्र से फिर से पूछताछ की तो उसने सब कुछ खुलकर बता दिया। छात्र के मुताबिक वह यूपी के इटावा के उदी क्षेत्र का रहने वाला है और दसवीं में पढ़ता है। हाल ही में उसकी मैथ की बोर्ड परीक्षा थी, लेकिन उसे यह विषय में बहुत बोरिंग और कठिन लगता है। उसने बताया कि परीक्षा खराब होने पर घर वाले भी उसे डांटते। उनकी फटकार से बचने और परीक्षा में शामिल नहीं होने के लिए उसने अपहरण की झूठी कहानी रची। उसने कहा कि वह इटावा से भागकर ग्वालियर आ गया और यहां पर कहानी बनाई।

Advertisement

इसके बाद ग्वालियर की पुलिस ने इटावा पुलिस से संपर्क साधा और उसकी पूरी बात बताई। इटावा पुलिस ने छात्र के घर वालों को जानकारी दी और उनको लेकर ग्वालियर पहुंची। ग्वालियर पुलिस ने छात्र को उनके हवाले कर दिया।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो