scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

ट्रेन में तबीयत खराब होने पर करें ये काम, शीघ्र मिल सकती है मदद

ट्रेन में सफर के दौरान यात्रियों की तबीयत खराब होने और सही समय पर इलाज की कमी के कारण कुछ बेहद दुखद मामले सामने आए हैं पर अब इस समस्या से मुक्ति मिल सकती है।
Written by: जनसत्ता | Edited By: Bishwa Nath Jha
Updated: March 21, 2024 14:25 IST
ट्रेन में तबीयत खराब होने पर करें ये काम  शीघ्र मिल सकती है मदद
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो -(इंडियन एक्सप्रेस)।
Advertisement

लंबे सफर के लिए ट्रेन सबसे किफायती साधन है। बहुत सारे लोग ट्रेन से सफर करते हैं। सोचिए आप किसी लंबे सफर पर निकले हुए हैं और ट्रेन में अचानक आपकी तबीयत खराब हो जाए, लेकिन सफर अभी काफी लंबा है तो क्या होगा? पिछले कुछ समय में कई बार ट्रेन में सफर के दौरान यात्रियों की तबीयत खराब होने और सही समय पर इलाज की कमी के कारण कुछ बेहद दुखद मामले सामने आए। इस विषय में आज हम आपको बताएंगे कि अगर आपके साथ ऐसा होता है तो आपको क्या करना चाहिए…

ट्रेन में यात्रा करते वक्त यदि आपकी तबीयत बिगड़ जाती है, तो घबराने की जरूरत नहीं है। आपको तुरंत रेलवे के हेल्पलाइन नंबर 138 पर काल करना चाहिए। इससे आपको आपकी समस्या का समाधान मिल सकता है। यदि 138 पर काल करने में समस्या आती है, तो आप 9794834924 नंबर पर भी काल कर सकते हैं। ट्रेन में टिकट चेकर (टीटीई) या कंडक्टर को भी तुरंत यात्री की स्थिति की सूचना देना चाहिए।

Advertisement

सभी ट्रेनों में अब चिकित्सकों की सुविधा उपलब्ध होती है। इसके लिए आपको कुछ प्रक्रिया का पालन करना होगा और जल्दी ही ट्रेन में मौजूद चिकित्सक से संपर्क करके इलाज करवा सकते हैं। आप ‘एक्स’ पर आइआरसीटीसी को टैग कर अपने टिकट पर दर्ज पीएनआर और अन्य विवरण देकर रेलवे को अपनी स्थिति की जानकारी दे सकते हैं।

यात्रियों की सहायता के लिए कई ट्रेनों में नए मेडिकल बाक्स भी लगे हैं, जिनमें 58 तरह की दवाएं और जरूरी चीजें होती हैं। इससे यात्रियों को सही समय पर उचित इलाज मिल सकता है। चलती ट्रेन में स्वास्थ्य खराब होने पर यात्री ‘एक्स’ पर शिकायत करता है तो स्टेशन पर फीस देने पर रेलवे के डाक्टर सेवा उपलब्ध कराते हैं। यात्री सोशल साइट का इस्तेमाल नहीं करता है तो टीसी या टीटीई रेलवे नियंत्रक कक्ष में सूचना देता है। इसे अनिवार्य कर दिया गया है।

Advertisement

इन सभी उपायों का पालन करते हुए अगले स्टेशन पर मौजूद चिकित्सक आपकी सेवा के लिए तत्पर रहते हैं। ध्यान देने वाली बात है कि ट्रेन में चिकित्सक को बुलाने पर आपको अधिक पैसे खर्च करने पड़ सकते हैं, क्योंकि इसका शुल्क अब पांच गुना बढ़ा दिया गया है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो