scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Swati Maliwal Case: 'CM केजरीवाल से न थी ऐसी उम्मीद', स्वाति मालीवाल से बातचीत के बाद LG वीके सक्सेना का बड़ा बयान

Swati Maliwal Case: दिल्ली पुलिस ने स्वाति मालीवाल केस की जांच के लिए SIT का गठन किया है। इससे पहले पुलिस की एक टीम ने सीएम आवास जाकर सीसीटीवी का DVR भी कलेक्ट की थी।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: May 21, 2024 17:09 IST
swati maliwal case   cm केजरीवाल से न थी ऐसी उम्मीद   स्वाति मालीवाल से बातचीत के बाद lg वीके सक्सेना का बड़ा बयान
Swati Maliwal Case: उपराज्यपाल ने की स्वाति मालीवाल से बातचीत (सोर्स - PTI/File)
Advertisement

Swati Maliwal Case: दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी AAP आए दिन नए विवादों में घिरती जा रही हैं। आप की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के साथ, सीएम आवास में अरविंद केजरीवाल के पीए बिभव द्वारा हुई कथित मारपीट की घटना ने पार्टी की काफी किरकिरी कराई है। इस मुद्दे पर अब दिल्ली के उपराज्यपाल डॉक्टर वीके सक्सेना ने भी स्वाति मालीवाल से फोन कर बातचीत की है और सीएम आवास में हुए इस घटनाक्रम पर नाराजगी जताई है।

दरअसल, दिल्ली के उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने आप सांसद स्वातिमालीवाल से फोन पर बातचीत की थी, जिसके बाद अब उनका बयान सामने आया है। उन्होंने इस घटना पर रोष जाहिर करते हुए कहा कि इस तरह की घटनाओं से पूरी दुनिया में भारत की छवि धूमिल होती है।

Advertisement

एलजी ने जारी किया बयान

एलजी वीके सक्सेना ने स्वाति मालीवाल से बात करने के बाद बयान जारी कर कहा कि मुख्यमंत्री के आास पर आम आदमी पार्टी की सांसद स्वाति मालीवाल पर कथित हमले के मुद्दे पर पिछले कुछ दिनों से मीडिया में चल रही खबरों से मेरा मन व्यथित है। उन्होंने कहा कि सोमवार को मालीवाल ने उन्हें फोन किया और अपने दर्दनाक एक्सपीरियंस शेयर किए।

एलजी ने स्वाति मालीवाल से अपनी बातचीत को लेकर बताया कि स्वाती को उनके ही सहकर्मियों द्वारा जान से मारने की धमकी तक दी गई है। इतना ही नहीं स्वाति ने इस दौरान एलजी से सीएम आवास में घटना के सबूतों के साथ कथित छेड़छाड़ और जबरदस्ती किए जाने पर भी चिंता जाहिर की है।

Advertisement

CM हाउस की घटना शर्मनाक

वीके सक्सेना ने कहा कि दिल्ली राष्ट्रीय राजधानी है और दुनियाभर के राजनयिक समुदायों को घर है। महिला सुरक्षा के मुद्दे पर सीएम हाउस से इस तरह की खबरें आने बेहद ही शर्मनाक षडयंत्रकारी और असंवेदनशील हैं।

Advertisement

केजरीवाल से ऐसी उम्मीद न थी

इतना ही नहीं, उपराज्यपाल ने अपने बयान में सीएम केजरीवाल की चुप्पी पर भी सवाल उठाए और कहा कि मुख्यमंत्री केजरीवाल की गहरी चुप्पी महिलाओं की सुरक्षा पर उनके रुख को बयां करती है। मुझे उम्मीद थी कि कम से कम शिष्टाचार के लिए मुख्यमंत्री स्पष्ट रूप से अपनी बात रखेंगे, न कि टालमटोल और संदिग्ध बने रहेंगे।

सीएम केजरीवाल की मौजूदगी में हिंसा कैसे?

उपराज्यपाल ने कहा कि स्वाति मालीवाल मेरे और मेरे कार्यालय के प्रति मुखर, शत्रुतापूर्ण और स्पष्ट रूप से पक्षपातपूर्ण रही हैं। उन्होंने अक्सर मेरी अनुचित आलोचना की है। इसके विपरीत अगर उनके साथ कोई शारीरिक हिंसा होती है और उत्पीड़न किया जाता है तो यह अस्वीकार्य है।

उपराज्यपाल ने कहा कि मुझे यह बात और परेशान करती है कि उनके साथ बदसलूकी मुख्यमंत्री के ड्राइंग रूम में हुई, जबकि सीएम केजरीवाल घर में मौजूद थे। यह अपराध उनके सबसे करीबी सहयोगी द्वारा अकेली महिला पर किया गया। स्वाति मालीवाल के साथी राज्यसभा सांसद ने भी मीडिया के सामने उनके साथ बदसलूकी को स्वीकारा था। साथ ही आश्वासन दिया कि मुख्यमंत्री आरोपी अपने पीए के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे। इसके बाद पूरे मसले पर पार्टी ने अपना रुख बदल लिया।

AAP ने किया पलटवार

एलजी वीके सक्सेना ने कहा कि जाहिर है यह सब सर्वोच्च पद पर बैठे पदाधिकारी के इशारे पर किया गया होगा, जो समझ से परे और हैरान करने वाला है। उपराज्यपाल के बयान पर आम आदमी पार्टी ने पलटवार किया है। न्यूज एजेंसी ने मुताबिक आप ने कहा कि एलजी के बयान से साबित होता है कि स्वाति मालीवाल BJP के लिए काम कर रही हैं।

आप ने बयान जारी कर कहा कि BJP चुनाव के दौरान हर दिन नई साजिश रच रही है- कभी शराब घोटाला, कभी स्वाति मालीवाल, कभी विदेशी फंडिंग के झूठे आरोप।'' चुनाव के दौरान बीजेपी रोज नए हथकंडे अपनाएगी। इसके साथ ही आप ने दावा किया कि बीजेपी बुरी तरह हार रही है, मोदी जी की डूबती नैया स्वाति मालीवाल का सहारा ले रही है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो