scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

क्या हीटवेव के कारण दिल्ली में हो रहीं मौतें? कोरोना के बाद सबसे अधिक 142 शवों का हुआ अंतिम संस्कार

दिल्ली के निगम बोध घाट पर बुधवार को रात 12 बजे तक रिकॉर्ड 142 शवों का दाह संस्कार हुआ है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Nitesh Dubey
नई दिल्ली | Updated: June 20, 2024 14:24 IST
क्या हीटवेव के कारण दिल्ली में हो रहीं मौतें  कोरोना के बाद सबसे अधिक 142 शवों का हुआ अंतिम संस्कार
निगम बोध घाट पर रिकॉर्ड 142 शवों का दाह संस्कार हुआ है।
Advertisement

दिल्ली-एनसीआर समेत पूरे देश में भीषण गर्मी पड़ रही है। इस बीच दिल्ली से एक हैरान कर देने वाली खबर आई है। कोरोना महामारी के बाद दिल्ली में एक दिन में रिकॉर्ड संख्या में शवों का दाह-संस्कार हुआ है। दिल्ली के निगम बोध घाट पर बुधवार को रात 12 बजे तक रिकॉर्ड 142 शवों का दाह संस्कार हुआ है।

Advertisement

क्या टूटेगा रिकॉर्ड?

रिपोर्ट्स के अनुसार दिल्ली के निगम बोध घाट पर इस साल जून महीने में अभी तक 1101 शवों का अंतिम संस्कार किया जा चुका है। इससे पहले जून 2022 में 1570 शवों के दाह संस्कार हुए थे। ऐसे में इस महीने में अभी 10 दिन बाकी है और इस बार आंकड़ा इससे पार जाने की आशंका जताई जा रही है। जून 2021 में 1210, जून 2022 में 1570 और जून 2023 में 1319 शवों का अंतिम संस्कार किया गया था।

Advertisement

दिल्ली में टूटा गर्मी का रिकॉर्ड

इस बीच बड़ी खबर ये भी है कि दिल्ली में न्यूनतम तापमान ने 55 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ दिया। मौसम विभाग के सफदरजंग केंद्र के अनुसार 18 जून की रात न्यूनतम पारा सामान्य से 8 डिग्री अधिक 35.2 डिग्री दर्ज किया गया जो 1969 के बाद सर्वाधिक है। 23 मई 1972 को न्यूनतम पारा 34.9 डिग्री रहा था। हालांकि बुधवार को लोगों को गर्मी से राहत मिली। बुधवार रात तेज आंधी और कुछ इलाकों में बारिश से मौसम ठंडा हो गया।

सऊदी में गर्मी के कारण 68 भारतीय हज यात्रियों की मौत

सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि सऊदी में भी भीषण गर्मी पड़ रही है। मक्का में भीषण गर्मी के कारण 550 से अधिक हज यात्रियों की मौत हो गई है। इसमें 68 भारतीय नागरिक भी शामिल हैं। वहीं समाचार एजेंसी एएफपी की रिपोर्ट के अनुसार दो अरब के राजनयिकों ने बताया कि गर्मी के कारण मरने वालों में 323 मिस्र के नागरिकों की मौत हुई है।

Advertisement

सऊदी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार सोमवार को मक्का की ग्रैंड मस्जिद में छाया में तापमान 51.8 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ गया। सऊदी स्वास्थ्य अधिकारी ने रॉयटर्स को बताया कि मौत की रिपोर्ट जारी होने से पहले अधिकारियों ने हाई टेम्परेचर के बीच हज यात्रियों के बीच कोई असामान्य मौत नहीं देखी थी।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो