scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

जगन की पार्टी के दफ्तर पर चला नायडू सरकार का बुलडोजर, YSRCP ने बताया बदले की राजनीति

Andhra Pradesh Politics: लोकसभा चुनाव के साथ हुए विधानसभा चुनावों में टीडीपी के नेतृत्व वाली एनडीए गठबंधन की धमाकेदार जीत हुई थी और चंद्रबाबू नायडू चौथी बार सीएम बने हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: June 22, 2024 12:47 IST
जगन की पार्टी के दफ्तर पर चला नायडू सरकार का बुलडोजर  ysrcp ने बताया बदले की राजनीति
चंद्रबाबू नायडू पर YSRCP ने लगाए गंभीर आरोप (सोर्स - ANI)
Advertisement

Andhra Pradesh Politics: आंध्र प्रदेश में सत्ता बदल गई है, जिसके बाद नई सरकार के तहत प्रशासन धड़ाधड़ फैसले ले रहा है और शनिवार को राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी की पार्टी YSRCP का कार्यालय ध्वस्त कर दिया गया। राज्य के विजयवाडा के तोडेपल्ले जिले में पार्टी का यह कार्यालय बुलडोजर की मदद से ध्वस्त कर दिया गया। इस केस में YSRCP ने मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू पर 'बदले की राजनीति' का आरोप लगाया है।

Advertisement

पूर्व सीएम जगन मोहन रेड्डी की पार्टी ने कहा कि उसने आंध्र प्रदेश राजधानी क्षेत्र विकास प्राधिकरण (APCRDA) की कार्रवाई को चुनौती देते हुए हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और एक रिट याचिका दायर की थी, जिसमें सुनवाई पूरी होने तक ताडेपल्ली में उनके केंद्रीय कार्यालय भवन के खिलाफ किसी भी कार्रवाई के खिलाफ आदेश देने का अनुरोध किया गया था।

Advertisement

CM नायडू पर पूर्व सीएम जगन ने बोला हमला

जानकारी के मुताबिक, YSRCP का निर्माणाधीन केंद्रीय कार्यालय भवन कथित तौर पर 'अवैध रूप से कब्जे वाली' भूमि पर बनाया जा रहा था। इस आरोप को लेकर जगन की पार्टी ने कहा कि मामला अभी अदालत में विचाराधीन था, फिर भी टीडीपी सरकार ने YSRCP के कार्यालय पर बुलडोजर चलवा दिया जो कि बदले की नीति है।

पूर्व सीएम वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने एक एक्स पोस्ट में कहा कि आंध्र प्रदेश में चंद्रबाबू अपने दमनकंद को एक नए स्तर पर ले गए। एक तानाशाह ने ताडेपल्ली में लगभग पूरा हो चुके वाईएसआरसी पार्टी के केंद्रीय कार्यालय पर बुलडोजर चला दिया। हाई कोर्ट के आदेशों की अनदेखी की गई। राज्य में कानून और न्याय तंत्र पूरी तरह से समाप्त हो गया है।

झुकेगी नहीं YSRCP

YSRCP प्रमुख जगन मोहन रेड्डी ने कहा है कि चुनाव के बाद हो रही हिंसक घटनाओं और खून-खराबे ने इसके संकेत दे दिए हैं कि चंद्रबाबू नायडू सरकार के पांच साल का शासन कैसा रहने वाला है। इन धमकियों, हिंसा के इन कृत्यों से वाईएसआरसीपी न तो झुकेगी और न ही पीछे मुड़कर देखेगी। हम जनता की ओर से, जनता के लिए और जनता के साथ कड़ा संघर्ष करेंगे। मैं देश के सभी लोकतंत्रवादियों से अनुरोध करता हूं कि वे चंद्रबाबू नायडू सरकार के इस कृत्य की निंदा करें।

Advertisement

वहीं इस मामले पर वाईएसआरसीपी नेता रवि चंद्र रेड्डी ने कहा कि बिना किसी प्रक्रिया का पालन किए, बुलडोजरों ने वाईएसआरसीपी कार्यालय को ध्वस्त कर दिया। यह टीडीपी की शुद्ध प्रतिशोध की राजनीति है। बता दें कि इससे पहले 15 जून को GHMC ने हैदराबाद के तेलंगाना वाले हिस्से में जगन के लोटस पॉन्ड निवास के निकट फुटपाथ पर कुछ संरचनाओं को ध्वस्त किया था।

Advertisement

GHMC के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार नगर निगम के अधिकारियों ने जगन के आवास के बाहर फुटपाथ पर टाइल लगाने का काम करने के लिए परिसर की दीवार से सटी संरचनाओं को हटाया।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो