scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Malala Yousafzai: नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई की तस्वीर स्कूल से हटाई गई, जानिए क्या है पूरा मामला

School Removes Malala Yousafzai Photo: स्कूल की शिक्षक ने छात्राओं को प्रेरित करने के लिए मलाला की तस्वीर लगाने की अनुमति मांगी थी, लेकिन विरोध के बाद तस्वीर को हटा दिया गया।
Written by: न्यूज डेस्क
May 29, 2023 13:27 IST
malala yousafzai  नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई की तस्वीर स्कूल से हटाई गई  जानिए क्या है पूरा मामला
Jharkhand School Removes Malala Yousafzai Photo: झारखंड के एक सरकारी स्कूल ने मलाला की तस्वीर हटाई। (फाइल फोटो)
Advertisement

School Removes Malala Yousafzai Photo: झारखंड के एक सरकारी स्कूल से नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई की तस्वीर हटाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने बताया झारखंड के एक सरकारी विद्यालय में मलाला की तस्वीर लगाई गई थी। इसको लेकर स्थानीय लोगों ने विरोध जताया। जिसके बाद शनिवार को पाकिस्तान की समाजसेवी मलाला की तस्वीर को स्कूल से हटा दिया गया। यह पूरा मामला राज्य के रामगढ़ जिले में मांडू के एक सरकारी विद्यालय का है।

स्कूल प्रबंधन ने बताया कि छात्राओं को प्रेरित करने के लिए नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला यूसुफजई की तस्वीर को लगाया गया था। प्रधानाचार्य रवींद्र प्रसाद ने बताया, 'विद्यालय की एक शिक्षक ने छात्राओं को प्रेरित करने के लिए मलाला की तस्वीर लगाने की परमिशन मांगी थी। इसके बाद उन्होंने इसकी अनुमति दी थी, लेकिन जब पंचायत और स्थानीय लोगों ने इसका विरोध किया तो नोबेल पुरस्कार विजेता मलाला की तस्वीर हटा दी गई।

Advertisement

रामगढ़ जिले के सरकारी स्कूल का मामला

पुलिस के मुताबिक, रामगढ़ जिले के मांडू ब्लॉक के कोल बेल्ट कुजू स्थित सरकारी विद्यालय में मलाला की फोटो लगाई गई थी। इसके बाद गांव के मुखिया जय कुमार ओझा ने पंचायत प्रतिनिधियों और स्थानीय लोगों के साथ इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। जिसके बाद स्कूल से मलाला की तस्वीर को हटा दिया गया।

10 दिसंबर, 2014 को मलाला को नोबेल पुरस्कार मिला

बच्चों और लड़कियों के शिक्षा के लिए काम करने किए मलाला यूसुफ़ज़ई को 10 दिसंबर 2014 को कैलाश सत्यार्थी के साथ शांति का नोबेल पुरुस्कार से सम्मानित किया गया था। इसके साथ ही नोबेल अवॉर्ड पाने वाली मलाला यूसुफ़ज़ई सबसे कम उम्र के विजेता बन गयी।

9 अक्टूबर, 2012 को तालिबानियों ने मलाला को मारी थी गोली

तालिबानियों ने नौ अक्टूबर 2012 को लड़कियों की शिक्षा और शांति के लिए आवाज पर मलाला यूसुफजई (Malala Yousafzai) को गोली मार दी थी, तालिबानी आतंकी उस बस पर सवार हो गए, जिसमें मलाला अपने साथियों के साथ स्कूल जा रही थीं। इसके बाद साल 2014 में मलाला को शांति का नोबेल पुरस्कार मिला था।

Advertisement

नवंबर, 2021 में मलाला ने बर्मिंघम में असर मलिक से शादी की

नवंबर, 2021 में मलाला ने ने बर्मिंघम में एक छोटे से समारोह में निकाह किया था। उन्होंने इसे अपने जीवन में एक "कीमती" दिन करार दिया था। उन्होंने ब्रिटेन के बर्मिंघम स्थित अपने घर पर परिवार की मौजूदगी में असर मलिक (Asser Malik) के साथ निकाह किया था।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो