scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

सफाई के दौरान मूर्ति टूटने पर पुजारी ने अपने साथियों के साथ मिलकर युवक को पीटा, हुई मौत-तीन गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक पीड़ित दिनेश नेपाल का रहने वाला था और कुछ दिन पहले मंदिर की सफाई करने और परिसर में टाइलें लगाने के लिए काम पर रखा गया था।
Written by: ईएनएस | Edited By: Nitesh Dubey
Updated: April 21, 2023 22:21 IST
सफाई के दौरान मूर्ति टूटने पर पुजारी ने अपने साथियों के साथ मिलकर युवक को पीटा  हुई मौत तीन गिरफ्तार
पुजारी समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है (Source: Gurgaon Police)
Advertisement

गुड़गांव में एक 24 वर्षीय व्यक्ति को पीट-पीट कर मार डाला गया। जिले के खांडसा गांव में बुधवार को गलती से एक मूर्ति का एक हिस्सा साफ करने के दौरान टूटने पर एक 24 वर्षीय व्यक्ति को पेड़ से बांधकर एक पुजारी सहित तीन लोगों ने उसे पीटा। इस कारण व्यक्ति की मृत्यु हो गई। मृतक का शव गुरुवार को बनीवाला मंदिर (Bani Wala temple) के बाहर मिला था।

गुड़गांव पुलिस (Gurgaon Police) ने तीनों आरोपियों मुख्य पुजारी अजीत सिंह (57) और उनके दो सहयोगियों प्रेमजीत बल्हारा (32) और सोनू (27) को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने बताया कि बल्हारा और सोनू जमानत पर बाहर अपराधी हैं।

Advertisement

पुलिस के मुताबिक नेपाल के रहने वाले पीड़ित दिनेश को कुछ दिन पहले मंदिर की सफाई करने और परिसर में टाइलें लगाने के लिए काम पर रखा गया था। पुलिस ने बुधवार को बताया कि मूर्ति की सफाई के दौरान गलती से दो अंगुलियां टूट गईं। इस दौरान आरोपी पास में ही बैठे थे और उन्होंने यह देख लिया।

सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी क्राइम) प्रीत पाल ने कहा, "रात के करीब 11 बजे थे। पीड़ित पर मूर्ति की दो-तीन अंगुलियां तोड़ने का आरोप था। अजीत ने प्रेमजीत और गोशाला में काम करने वाले सोनू को बुलाया। दिनेश को एक बरगद के पेड़ से बांध दिया गया और आरोपियों ने उसे लाठी, डंडों और कुल्हाड़ी से भी पीटा। पीड़ित ने चोट के कारण दम तोड़ दिया। आरोपियों ने बाद में व्यक्ति के शव को मंदिर के बाहर फेंक दिया।"

Advertisement

मंदिर के पास काम करने वाले एक स्थानीय महेश कुमार ने आरोप लगाया, "उसने (दिनेश) गलती से एक मूर्ति को तोड़ दिया। अजीत ने गुस्से में आकर उस पर हमला कर दिया। इसके बाद उसने अपने साथियों को बुलाया जिन्होंने उस व्यक्ति को बांध कर मार डाला। मैंने उन्हें रोकने की कोशिश की लेकिन उन्होंने मुझे धमकी दी। अगले दिन मुझे उसका शव मिला।"

Advertisement

दिनेश को सिविल अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। महेश की शिकायत और पूछताछ के आधार पर पुलिस ने गुरुवार से शुक्रवार के बीच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। मुख्य आरोपी पुजारी है क्योंकि उसने उस व्यक्ति पर हमला किया और अपने साथियों को बुलाया। वह मंदिर के केयरटेकर हैं और वहीं रहते हैं। उसके दो साथी जमानत पर बाहर अपराधी हैं। प्रेमजीत बल्हारा को पहले एक बलात्कार के मामले में पकड़ा गया था, जबकि सोनू को हत्या के प्रयास के मामले में पकड़ा गया था।"

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो