scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Chattisgarh: बच्चा चोरी की अफवाह पर भीड़ ने की साधुओं के वेश में तीन लोगों की पिटाई, हाथ जोड़ करते रहे विनती

तीनों साधु काफी समय से वहां किराए का कमरा लेकर रह रहे हैं और भिक्षा मांगकर जीवनयापन कर रहे थे।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन | Edited By: संजय दुबे
Updated: October 08, 2022 14:20 IST
chattisgarh  बच्चा चोरी की अफवाह पर भीड़ ने की साधुओं के वेश में तीन लोगों की पिटाई  हाथ जोड़ करते रहे विनती
छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के भिलाई में साधुओं की पिटाई करती भीड़। (फोटो- एएनआई)
Advertisement

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के भिलाई में बुधवार को तीन साधुओं को कुछ लोगों ने बच्चा चोरी के शक में पीट-पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। वे हाथ जोड़कर खुद के निर्दोष होने और न मारने की विनती करते रहे, लेकिन भीड़ उनकी जान लेने पर आमादा हो गई थी। पिटाई से साधुओं का सिर फट गया। हाथों-पैरों में भी चोटें आई हैं। जानकारी पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह उनको भीड़ से अलग किया। इस घटना का वीडियो वायरल होने पर हंगामा मच गया।

पुलिस पहले मामले को दबा रही थी, लेकिन वीडियो सामने आने के बाद एक्शन में आई। पुलिस की लापरवाही पर जिले के पुलिस अधीक्षक डॉ. अभिषेक पल्लव ने थाना प्रभारी को फटकार भी लगाई। उन्होंने कहा, "ये साधु संदिग्ध ढंग से बच्चों से बात कर रहे थे, जिससे अफवाह फैली कि यह बच्चा चोरी करने आए हैं। साधुओं के मुताबिक ये राजस्थान के अलवर के रहने वाले हैं लेकिन इनके पास से कोई पहचान पत्र नहीं मिला है। लेकिन लोगों ने जो कुछ किया, वह गलत है। हम लोगों से अपील करेंगे कि क़ानून अपने हाथ में न लें। फिलहाल तीस लोगों से पूछताछ की जा रही है।"

Advertisement

पुलिस के मुताबिक तीनों साधुओं का नाम राजबीर सिंह, अमन सिंह और श्याम सिंह है। वे रेलवे क्षेत्र चरोदा में किराए का कमरा लेकर रहते हैं। उनका जीविका का साधन भिक्षा मांगना है। बुधवार को जब वे इलाके से गुजर रहे थे तो किसी ने बच्चा चोर कहकर शोर मचा दिया। इस बीच वहां मौजूद कुछ लोग शराब के नशे में उनकी पिटाई शुरू कर दी। कुछ देर में वहां काफी भीड़ जुट गई और उनको बुरी तरह मारने लगे।

छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कड़ी कार्रवाई की बात कही

मामले में छत्तीसगढ़ के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने रायपुर में कहा, "जानकारी प्राप्त हुई है कि 3 साधुओं के साथ मारपीट की गई है। मामले में जानकारी इकट्ठा की जा रही है। पुलिस विभाग मामले की जांच कर रहा है। जो तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर सख़्त से सख़्त कार्रवाई की जाएगी। किसी को बख़्शा नहीं जाएगा।"

पुलिस ने कहा पिटाई करने वालों की वीडियो फुटेज से की जा रही पहचान

पुलिस ने लोगों से अपील की है कि किसी को शक होने पर उसे पुलिस के पास ले जाएं, खुद ही उसके साथ न तो मारपीट करें और न ही उसको परेशान करें। मामले की जांच करने और दोषी मिलने पर कार्रवाई करने का काम पुलिस का है, लोगों को खुद ऐसा नहीं करना चाहिए। फिलहाल पुलिस अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर कार्रवाई कर रही है। वीडियो फुटेज से पिटाई करने वालों की पहचान की कोशिश की जा रही है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो