scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Chhattisgarh: मंदिर पर वाटर टैक्स बकाया, काट दिया बजरंगबली के नाम नोटिस, कहा- 15 दिन के अंदर करो जमा नहीं तो लगेगा सर चार्ज

यूजर का नाम बजरंगबली लिखा है और पिता के नाम की जगह टेंपल लिखा हुआ है। मामला रायगढ़ शहर के वार्ड क्रमांक 18 दरोगापारा स्थित बजरंगबली मंदिर का है, जबकि बजरंगबली मंदिर में नल का कनेक्शन ही नहीं है।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन | Edited By: संजय दुबे
Updated: October 20, 2022 15:43 IST
chhattisgarh  मंदिर पर वाटर टैक्स बकाया  काट दिया बजरंगबली के नाम नोटिस  कहा  15 दिन के अंदर करो जमा नहीं तो लगेगा सर चार्ज
बजरंगबली को नोटिस मिलने पर नगर निगम के प्रति लोगों में काफी नाराजगी है। (फोटो- सोशल मीडिया)
Advertisement

छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले के नगर निगम ने बजरंग बली के नाम से पानी का बकाया बिल जमा करने के लिए नोटिस जारी किया है। नोटिस में साफ चेतावनी दी गई है कि 15 दिन के अंदर बिल नहीं जमा किया तो सरचार्ज लगेगा। इससे वहां हड़कंप मचा हुआ है। खास बात यह है कि यूजर का नाम बजरंगबली लिखा है और पिता के नाम की जगह टेंपल लिखा हुआ है। मामला रायगढ़ शहर के वार्ड क्रमांक 18 दरोगापारा स्थित बजरंगबली मंदिर का है

नगर निगम ने अमृत मिशन के तहत दो माह का जल कर 400 रुपय बकाया बताया है। नोटिस में कहा गया है कि जल कर फरवरी और मार्च महीना का बकाया है। जबकि बजरंगबली मंदिर में नल का कनेक्शन ही नहीं है। इस मामले की जानकारी आम लोगों को हुई तो इसे जनप्रतिनिधियों के सामने उठाया गया और अमृत मिशन नल जल योजना के आवंटन में गड़बड़ी का आरोप लगाया गया।

Advertisement

इस मामले में नगर निगम की नेता प्रतिपक्ष पूनम सोलंकी ने नगर निगम पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। उन्होंने नोटिस निरस्त कर ठेकेदार पर कार्रवाई किए जाने की मांग की है। कहा कि हमारे आराध्य को नोटिस जारी किया गया है। इस मामले में चुप नहीं बैठेंगे। हालांकि बाद में नगर निगम आयुक्त ने आदेश तत्काल निरस्त कर दिया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार नगर निगम के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर नित्यानंद उपाध्याय ने सफाई देते हुए कहा कि नल कनेक्शन प्राइवेट फर्म ने लगाए है। यह कंप्यूटर से जेनरेट है, हाथ से नहीं लिखा गया है और केवल वेरिफिकेशन आदेश है। गड़बड़ी मिलने पर नोटिस को वापिस किया जा सकते हैं। फिलहाल नोटिस निरस्त कर दिया गया है और लापरवाही बरतने वाले ठेकेदार पर कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो