scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

RBI से एक हजार करोड़ से ज्यादा की रकम लेकर आ रहे थे दो कंटेनर, जानिए नेशनल हाइवे पर फिर क्या हुआ

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की चेन्नई स्थित ब्रांच से एक हजार 70 करोड़ की रकम विल्लुपुरम भेजी गई थी। ये सारे पैसे इलाके के बैंकों में जाने थे। रकम दो कंटेनरों में थी। हर एक में 535 करोड़ रुपये थे।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: शैलेंद्र गौतम
May 18, 2023 13:31 IST
rbi से एक हजार करोड़ से ज्यादा की रकम लेकर आ रहे थे दो कंटेनर  जानिए नेशनल हाइवे पर फिर क्या हुआ
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर। ( फोटो-इंडियन एक्‍सप्रेस)।
Advertisement

तमिलनाडु के चेन्नई से विल्लुपुरम जा रहे दो कंटेनरों को लेकर नेशनल हाइवे पर उस समय हड़कंप मच गया जब उनमें से एक कंटोनर बीच सड़क पर खराब हो गया। आनन-फानन में पुलिस का भारी बंदोबस्त दोनों कंटेनरों के इर्द गिर्द हो गया। लोगों को समझ नहीं आ रहा था कि आखिर क्या माजरा है जो कंटेनरों की इतनी ज्यादा फिक्र पुलिस को हो रही है। कुछ देर बाद एक कंटेनर को पुलिस कड़ी सुरक्षा में अपने साथ ले गई।

दरअसल रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की चेन्नई स्थित ब्रांच से एक हजार 70 करोड़ की रकम विल्लुपुरम भेजी गई थी। ये सारे पैसे इलाके के बैंकों में जाने थे। रकम दो कंटेनरों में थी। हर एक में 535 करोड़ रुपये थे। दोनों कंटेनर अपने गंतव्य की तरफ जा रहे थे कि उनमें से एक बीच रास्ते में खराब हो गया। कंटेनरों को तांबरम के पास रुकना पड़ गया। हालांकि 17 पुलिस के जवान कंटेनरों को गार्ड कर रहे थे।

Advertisement

नहीं ठीक हो सका कंटेनर तो पुलिस के और जवान बुलाए गए

लेकिन भारी भरकम रकम को देखकर पुलिस के भी हाथ पैर फूल गए। तत्काल कंट्रोल रूम में फोन करके और ज्यादा पुलिस भेजने को कहा गया। उसके बाद और ज्यादा पुलिस का बंदोबस्त नेशनल हाइवे पर किया गया। कंटेनर का ड्राइवर पहले खुद से वाहन को ठीक करने की कोशिश करता रहा। लेकिन जब काफी प्रयासों के बावजूद वो वाहन को ठीक नहीं कर सका तो कंटेनरों को सिद्धा इंस्टीट्यूट ले जाया गया।

सिद्धा इंस्टीट्यूट के भीतर कंटेनरों के जाने केस बाद तमाम रास्ते कुछ देर के लिए बंद करा दिए गए। एक्सपर्ट मैकेनिकों को वहीं पर बुलाकर कंटेनर को ठीक करने की कोशिश की गई। लेकिन तमाम मशक्कत के बाद भी वो वाहन को ठीक नहीं कर सके। उसके बाद फैसला लिया गया कि सारी रकम को वापस से रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की चेन्नई स्थित ब्रांच में भेज दिया जाए। दोनों कंटेनरों को RBI की तरफ रवाना कर दिया गया।

तांबरम के असिस्टेंट कमिश्नर श्रीनिवासन का कहना है कि रकम भारी भरकम थी, इस वजह से पुलिस की जिम्मेदारी ज्यादा बढ़ गई। कंटेनर के खराब होने की सूचना के बाद से उसके रिजर्व बैंक पहुंचने तक पुलिस ने अपना काम शिद्दत से किया। पूरी तरह से सुनिश्चित किया गया कि गड़बड़ न हो।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो