scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

बेटी का इलाज नहीं करा पाने से दुखी शख्स ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान, फोन पर कहा था, "अब मैं थक चुका हूं”

मध्य प्रदेश के सतना जिले की अनुष्का ने कहा कि पिता ने पैसे के लिए अफसरों के पास गुहार लगाई थी, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हुई। वह निराश हो चुके थे।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: संजय दुबे
Updated: April 20, 2023 17:02 IST
बेटी का इलाज नहीं करा पाने से दुखी शख्स ने ट्रेन के आगे कूदकर दी जान  फोन पर कहा था   अब मैं थक चुका हूं”
तस्वीर का इस्तेमाल सिर्फ प्रस्तुतिकरण के लिए (Photo- File)
Advertisement

मध्य प्रदेश के सतना में एक व्यक्ति ने कथित तौर पर आर्थिक तंगी की वजह से ट्रेन के आगे कूदकर खुदकुशी कर ली। उसकी बेटी का कहना है कि पिता इस बात से दुखी थे कि वह उसका इलाज नहीं करा पा रहे हैं। बेटी के पांच साल पहले एक हादसे में दोनों पैर खराब हो गये थे। इसकी वजह से वह चलने-फिरने में नाकाम हो गई थी और बेड रेस्ट कर रही थी।

बेटी के इलाज में घर की सारी जमा-पूंजी लगा दी थी

सतना जिले के रहने वाले प्रमोद कुमार गुप्ता की बेटी अनुष्का (21) पांच साल पहले एक हादसे का शिकार बन गई थी। इसमें उसके दोनों पैर खराब हो गये थे। प्रमोद ने उसके इलाज के लिए जीजान लगा दिया। घर में जो भी जमा-पूंजी थी, सब खर्च कर दी। यहां तक कि अपना ब्लड भी बेचे और खुद भी बीमार पड़े, लेकिन बेटी को ठीक नहीं करा सके।

Advertisement

भाई ने बताया कि रात में घर से निकले तो फिर नहीं लौटे

प्रमोद के भाई विनोद गुप्ता ने मीडिया को बताया कि वे सोमवार (17 अप्रैल 2023) की रात घर से निकले थे, लेकिन तब से लौटकर नहीं आए।
वे फोन नहीं उठा रहे थे। देर रात तक कई जगह फोन करके उनके बारे में पता करने की कोशिश की गई, लेकिन कुछ नहीं पता चला। मंगलवार को तड़के प्रमोद ने पिता को फोन किया और कहा, "अब मैं थक चुका हूं, तुम्हारा इलाज नहीं करा सकता। आत्महत्या करने जा रहा हूं।”

इसके बाद फोन रख दिये। बेटी ने उनके दोस्तों को फोन करके पिता की जान बचाने की गुहार लगाई, लेकिन कुछ नहीं हो सका। सुबह आठ बजे कहीं से जानकारी मिली की वे ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या कर लिये हैं। इसके बाद घर में रोना-पीटना शुरू हो गया। परिवार में बेटी अनुष्का के अलावा दो बेटे उदय और रैना भी हैं।

Advertisement

अनुष्का ने कहा कि पिता ने पैसे के लिए अफसरों के पास गुहार लगाई थी, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हुई। वह निराश हो चुके थे। स्थानीय पुलिस का कहना है कि मामला दर्ज कर घटना की जांच की जा रही है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो