scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

रेप का आरोप लगा मुकरी लड़की तो बिफरा हाईकोर्ट, योगी सरकार से बोला- ये कानून का मजाक, वापस लो मुआवजे की रकम

इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस बृजराज सिंह रेप के मामले के आरोपी की जमानत याचिका पर सुनवाई कर रहे थे। हाईकोर्ट को जब पता चला कि लड़की अपने बयान से ही पीछे हट रही है तो जज ने कहा कि ऐसे मामले में आरोपी को बेल पर रिहा करना ही ठीक है।
Written by: shailendragautam
April 17, 2023 13:04 IST
रेप का आरोप लगा मुकरी लड़की तो बिफरा हाईकोर्ट  योगी सरकार से बोला  ये कानून का मजाक  वापस लो मुआवजे की रकम
इलाहाबाद उच्च न्यायालय (Photo : ANI)
Advertisement

रेप के एक मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट के तेवर उस समय तीखे हो गए जब उसे पता चला कि जिस लड़की ने आरोप लगाया था वो अब पीछे हट गई है। वो अपने आरोपों से मुकर रही है। हाईकोर्ट का गुस्सा इतना तीखा था कि उसने योगी सरकार को आदेश किया कि लड़की को मुआवजे के तौर पर जो रकम दी गई है उसे तत्काल प्रभाव से वापस लो। कोर्ट का कहना था कि ये कानून का मजाक है। जनता का पैसा यूं ही बर्बाद नहीं किया जा सकता।

इलाहाबाद हाईकोर्ट के जस्टिस बृजराज सिंह रेप के मामले के आरोपी की जमानत याचिका पर सुनवाई कर रहे थे। हाईकोर्ट को जब पता चला कि लड़की अपने बयान से ही पीछे हट रही है तो जज ने कहा कि ऐसे मामले में आरोपी को बेल पर रिहा करना ही ठीक है। लिहाजा उसे जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया गया। अदालत का कहना था कि रेप जैसे मामलों में आरोप लगाकर पीछे हटना कानून का बेजा इस्तेमाल ही तो है।

Advertisement

उन्नाव थाने में पाक्सो एक्ट के तहत दर्ज कराया था केस

दरअसल इस मामले में उन्नाव पुलिस को दी शिकायत में एक नाबालिग लड़की के भाई ने आरोपी पर रेप का आरोप लगाया था। पुलिस ने शिकायत की जांच करने के बाद POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज करके आरोपी को गिरफ्तार किया। इसके बाद कोर्ट में मामले की सुनवाई शुरू हुई।

स्पेशल कोर्ट में बोली लड़की, उसे ध्यान नहीं आरोपी का चेहरा

लेकिन हैरत की बात तब देखने को मिली जब जिस भाई ने रेप का केस दर्ज करवाया था वो ही मजिस्ट्रेट के सामने जाकर अपने बयान से मुकर गया। मामला पाक्सो एक्ट से जुड़ा था इस वजह से केस की सुनवाई स्पेशल कोर्ट में की गई। लड़की को कोर्ट ने गवाही के लिए बुलाया तो उसने आरोपी को पहचानने से ही इनकार कर दिया। उसका कहना था कि वो अपने साथ हुई वारदात के वक्त आरोपी का चेहरा नहीं देख पाई थी।

लड़की के मुकरने के बाद आरोपी ने हाईकोर्ट का रुख किया। उसने अदालत से कहा कि जिसने रेप का आरोप लगाया था वो ही अपने बयान से मुकर रही है लिहाजा उसके खिलाफ कोई मामला नहीं बनता। आरोपी ने हाईकोर्ट से उसे जमानत पर रिहा करने की अपील की। जस्टिस बृजराज सिंह ने लड़की के बयान के बारे में सरकारी वकील राजेश कुमार सिंह से पूछा तो उनका कहना था कि हां वो अब अपने आरोपों पर कायम नहीं है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो