scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Taj Mahal में तीनों दिनों तक एंट्री फ्री, बेहद खास है मौका, किए जाएंगे खास आयोजन

शाहजहां की पुण्यतिथि पर ताजमहल में फ्री इंट्री से वहां भीड़ बढ़ने की भी संभावना रहेगी। इससे आसपास के दुकानदारों और होटलों-रेस्तरां संचालकों को भी बड़ी संख्या में कस्टमर मिलने की उम्मीद है।
Written by: संजय दुबे | Edited By: संजय दुबे
Updated: February 15, 2023 19:16 IST
taj mahal में तीनों दिनों तक एंट्री फ्री  बेहद खास है मौका  किए जाएंगे खास आयोजन
ताजमहल में फ्री इंट्री से खास तौर पर आगरा के स्थानीय लोगों को फायदा होगा। (Photo- Indian Express)
Advertisement

अगर आप आगरा स्थित विश्व प्रसिद्ध ताजमहल को देखने जाना चाहते हैं और टिकट महंगा होने की वजह से नहीं जा पा रहे हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है। ताजमहल में तीन दिनों तक इंट्री फ्री रहेगी। इस दौरान कोई भी बिना टिकट लिये अंदर जा सकता है। मुगल सम्राट शाहजहां की 368वीं पुण्य तिथि (Death Anniversary) के मौके पर ताजमहल को दर्शकों के लिए मुफ्त में देखने के लिए खोला जाएगा। इतना ही नहीं, दर्शक वहां पर आयोजित विभिन्न तरह के खास कार्यक्रमों और कव्वाली को भी मुफ्त देख सकेंगे। साथ ही सम्राट शाहजहां और मुमताज की कब्रों तक जा सकेंगे। आम दिनों में ताजमहल के बेसमेंट तक जाने की अनुमति किसी को नहीं होती है।

तीन दिनों तक होगा वार्षिक उर्स का आयोजन

आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) के आगरा सर्किल के सुप्रीटेंडिंग आर्कियोलॉजिस्ट राजकुमार पटेल ने कहा कि 17 से 19 फरवरी तक तीन दिन शाहजहां का वार्षिक उर्स का आयोजन होगा। इस दौरान कोई भी पर्यटक ताजमहल में मुफ्त में इंट्री पा सकेगा और वहां होने वाले कार्यक्रमों को देख सकेगा।

Advertisement

17 और 18 फरवरी को दोपहर से शाम तक, 19 को पूरे दिन फ्री इंट्री

उन्होंने बताया कि 17 और 18 फरवरी को दर्शक और पर्यटक दोपहर दो बजे से लेकर सूर्यास्त होने तक मुफ्त प्रवेश पा सकेंगे, लेकिन 19 फरवरी को सुबह सूर्योदय से सूर्यास्त तक पूरा दिन ताजमहल में मुफ्त जाने की अनुमति होगी। राजकुमार पटेल के मुताबिक तीन दिनों तक ताजमहल के अंदर कई तरह के पारंपरिक कार्यक्रम होंगे। इसमें 'चादरपोशी', 'संदल', 'गुसुल' और 'कुल' आदि शामिल हैं।

अंतिम दिन चढ़ाई जाएगी 1,880 मीटर लंबी चादर

एप्रुव्ड टूरिस्ट गाइड्स एसोसिएशन के अध्यक्ष शम्सुद्दीन खान के मुताबिक उर्स के अंतिम दिन 1,880 मीटर लंबी चादर चढ़ाई जाएगी। चादरपोशी में कई धर्मों के लोग शामिल होते हैं। आगरा के स्थानीय लोगों का कहना है कि मुगल सम्राट शाहजहां और उनकी बीवी मुमताज की शान में होने वाली कव्वाली को देखने भारी संख्या में लोग आते हैं। इस दौरान पर्यटकों को बेसमेंट में बने कब्रों तक जाने की छूट मिलती है।

शाहजहां की पुण्यतिथि पर ताजमहल में फ्री इंट्री से वहां भीड़ बढ़ने की भी संभावना रहेगी। इससे आसपास के दुकानदारों और होटलों-रेस्तरां संचालकों को भी बड़ी संख्या में कस्टमर मिलने की उम्मीद है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो