देश का चमत्कारी दरगाह, जिसके आगे समुंदर भी झुक जाता है

भारत में एक ऐसा दरगाह है जहां लगभग हर धर्म के लिए सिर झुकाते हैं। इस दरगाह के आगे समुंदर की लहरें भी नतमस्तक हो जाती हैं।

Source: Social Media

झुकता है समुंदर

ये दरगाह अरब सागर स्थित एक टापू पर है जहां समुंदर की लहरें चाहे कितने ही उफान पर क्यों न हों लेकिन दरगाह कभी नहीं डूबती।

Source: Social Media

कोई नहीं लौटता खाली हाथ

मान्यता है कि यहां आने वाला कोई भी शख्स खाली हाथ नहीं लौटता है। यहां पर हर धर्म के लोग मन्नत मांगने आते हैं।

Source: Indian Express

हाजी अली दरगाह

दरअसल, ये मायानगरी मुंबई की हाजी अली दरगाह है जो अरब सागर में स्थित एक टापू पर है। ये दरगाह पूरे विश्व के श्रद्धालुओं के आस्था का केंद्र है।

Source: Indian Express

दान कर दिए थे सारा धन

बताया जाता है कि हाजी अली बहुत धनी थे और मक्का तीर्थ यात्रा से पहले उन्होंने अपना सारा धन दान कर दिया था। मक्का यात्रा के दौरान ही उनकी मृत्यु हो गई थी।

Source: Social Media

ताबूत बहते हुए मुंबई पहुंचा था

ऐसी मान्यता है कि मृत्यु के बाद उनका शरीर एक ताबूत में था जो बहते हुए मुंबई वापस आ गया जिसके बाद उनकी दरगाह बनवाई गई थी।

Source: Social Media

सुनामी तक में जस का तस था दरगाह

दरगाह इतना चमत्कारिक है कि साल 2005 में आई मुंबई की भयंकर बाढ़ में इसे कोई नुकसान नहीं हुआ। यहां तक कि सुनामी के दौरान भी दरगाह को कई नुकसान नहीं पहुंचा था

Source: Social Media