ये हैं इतिहास के 5 सबसे सफल खदान रेस्क्यू मिशन

उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सिलक्यारा टनल में 12 नवंबर को सुरंग में धंसाव हो गया जिसमें 41 मजदूर फंस गए। 10 दिन बाद मंगलवार को फंसे हुए श्रमिकों की पहली तस्वीरें सामने आईं है जिसमें सब सुरक्षित बताए गए हैं।

Source: PTI

बड़े पैमाने पर चल रहे उत्तरकाशी टनल हादसे से पहले भी इतिहास में कई सफल खदान बचाव अभियान में लोगों की जिंदगियां बचाई गई है। आइए डालते हैं एक नजर:

Source: PTI

चिली

साल 2010 (अगस्त-अक्टूबर) में उत्तरी चिली के सैन जोस कॉपर-गोल्ड परियोजना में, मुख्य प्रवेश द्वार टूटने के बाद 33 मजदूर 69 दिनों तक 700 मीटर भूमिगत फंसे रहे। ये अभियान सफल रहा था और इसमें तकरीबन 20 मिलियन डॉलर खर्च हुए थे।

Source: pexels

चीन

साल 2010 में ही चीन के शांक्सी में वांगजियालिंग खदान में भी बाढ़ के चलते 153 मजदूर फंस गए थे। बड़े पैमाने पर चले इस अभियान में 115 लोगों को ही बचाया जा सका था।

Source: pexels

ऑस्ट्रेलिया

वर्ष 2006 में तस्मानिया में बीकन्सफील्ड सोने की खदान में 2.1 तीव्रता के भूकंप के चलते 15 श्रमिक लिफ्ट में फंस गए थे। इसमें से एक व्यक्ति की मौत होई थी। करीब एक सप्ताह बाद 14 मजदूरों को सुरक्षित बाहर निकाला गया था।

Source: freepik

अमेरिका

अमेरिका के पेंसिल्वेनिया में क्यूक्रीक में परित्यक्त सैक्समैन कोयला खदान में वर्ष 2002 में एक हादसा हुआ जिसमें करीब 18 लोगों में से 9 लोग फंस गए थे। बचाव अभियान में सभी 9 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था।

Source: pexels

अमेरिका

अमेरिका के मिडलैंड, टेक्सास में एक 18 महीने की लड़की एक कुएं में फंस गई थी। साल 1987 के इस अभियान में ढाई दिनों के बाद बच्ची को बचा लिया गया था।

Source: freepik