scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

West Bengal: पश्चिम बंगाल में अभिषेक बनर्जी के काफिले पर हमला, ममता की मंत्री घायल, अंगरक्षक को भी लगी चोट

Abhishek Banerjee Cavalcade: ममता के भतीजे और टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी के काफिले पर हमला किया गया है। इस हमले में ममता की मंत्री घायल हो गई हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: May 27, 2023 15:47 IST
west bengal  पश्चिम बंगाल में अभिषेक बनर्जी के काफिले पर हमला  ममता की मंत्री घायल  अंगरक्षक को भी लगी चोट
West Bengal: टीएमसी नेता अभिषेक बनर्जी और ममता सरकार में मंत्री बीरबहा हांसगा । (फाइल फोटो)
Advertisement

West Bengal: पश्चिम बंगाल के मेदिनीपुर जिले में ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के काफिले पर शुक्रवार को हमला किया गया है। इस हमले में अभिषेक बनर्जी सुरक्षित हैं। उनको कोई चोट नहीं लगी है, जबकि ममता की मंत्री बीरबहा हांसगा के वाहन को तोड़ दिया गया। हांसगा इस हमले में घायल हो गईं हैं। उनके अंगरक्षक को भी चोट लगी है। घटनास्थल पर भारी संख्या में पुलिस बल को भेजा गया है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

Advertisement

यह घटना उस वक्त हुई जब पार्टी के जनसंपर्क अभियान तृणमूल नवज्वार के तहत अभिषेक जिलों के दौरे पर हैं। पत्थरबाजी में कई वाहनों के शीशे टूट गए। हमले में कई तृणमूल कार्यकर्ता सहित कुछ पुलिसकर्मी भी घायल हुए हैं। हालांकि, अभिषेक बनर्जी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है। वह सुरक्षित हैं। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने तृणमूल नेताओं के खिलाफ फिर चोर-चोर के नारे भी लगाए। कुड़मी समुदाय के लोग अनुसूचित जनजाति (एसटी) की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे।

Advertisement

कुड़मी नेताओं ने आरोपों से इनकार किया है। उन्होंने दावा किया कि कुछ बाहरी लोगों ने टीएमसी नेता के काफिले पर हमला किया था। टीएमसी के दूसरे नंबर के नेता बनर्जी राज्य में पंचायत चुनाव से पहले अपने जनसंपर्क अभियान 'जन संजोग यात्रा' के तहत राज्य का दौरा कर रहे हैं।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बनर्जी का काफिला जब झाड़ग्राम के दहिजुरी से लोधसुली जा रहा था तो सड़क किनारे कुछ लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी। दावा किया गया कि जेड प्लस सुरक्षा प्राप्त बनर्जी को ले जा रही कार जैसे ही गुजरी, कुछ लोगों ने अचानक पीछे चल रहे वाहन पर बांस के डंडों, लोहे की छड़ों और ईंटों से हमला कर दिया। हमले में मंत्री हांसदा और उनके अंगरक्षक घायल हो गए।

यह कोई आंदोलन नहीं, गुंडागर्दी है: हांसदा

हांसदा ने कहा, “यह कोई आंदोलन नहीं है। यह गुंडागर्दी है। इस तरह की गुंडागर्दी को हम बर्दाश्त नहीं करेंगे। हम विरोध करेंगे। शनिवार से हमारी पार्टी इस घटना के खिलाफ सड़कों पर उतरेगी।" उन्होंने पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाए। कहा कि अगर पुलिस एक्टिव होती तो इस तरह की घटना को टाला जा सकता था।

Advertisement

काफिले पर हमला हमने नहीं किया: कुड़मी नेता

कुड़मी के एक नेता ने कहा, 'हम विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, लेकिन काफिले पर हमने हमला नहीं किया।' इस पर हांसदा ने कहा, ''वो झूठ बोल रहे हैं। घटना के समय हमने उन्हें मौके पर देखा था। अधिकारियों ने कहा कि स्थिति को नियंत्रित करने के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर भेजा गया है।

Advertisement

हमले के पीछे बीजेपी का हाथ: अभिषेक बनर्जी

अभिषेक बनर्जी ने आरोप लगाया कि हमले के पीछे भाजपा का हाथ है। उन्होंने कहा कि मैं लोकतांत्रिक विरोध का समर्थन करता हूं। अगर कोई मेरे पास आकर बोलना चाहता है तो वह ऐसा करने के लिए हमेशा स्वतंत्र है, लेकिन जब आप पत्थर फेंक रहे हैं, लोगों को पीट रहे हैं और वाहनों में तोड़फोड़ कर रहे हैं तो यह किस तरह का विरोध है?" गोपीबल्लवपुर में देर रात पार्टी के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने आरोप लगाया, 'मेरा मानना है कि टीएमसी अभियान को बदनाम करने के लिए इस हमले के पीछे कुड़मी समुदाय के सदस्यों के भेष में भाजपा के कुछ गुंडे हैं।'

अभिषेक बनर्जी ने 48 घंटे की दिया अल्टीमेटम

अभिषेक बनर्जी ने 48 घंटे के भीतर हमले पर समुदाय के नेताओं से बयान मांगा है। उन्होंने कहा कि मैं कुड़मी समुदाय के नेताओं को 48 घंटे का अल्टीमेटम दे रहा हूं। उन्हें स्पष्ट करना चाहिए कि क्या इस घटना के पीछे उनका हाथ है। अगर वे बयान नहीं देते हैं, तो यह साबित हो जाएगा कि वे इसके पीछे थे और फिर कानून अपना काम करेगा।"

बीजेपी ने आरोपों को खारिज किया

बनर्जी के आरोपों को खारिज करते हुए, भाजपा ने कहा कि किसी भी तरह से उसके सदस्य हिंसा में शामिल नहीं थे। भाजपा नेता राहुल सिन्हा ने कहा, "विरोध प्रदर्शन टीएमसी के खिलाफ लोगों के गुस्से को दर्शाता है।" माकपा नेता सुजान चक्रवर्ती ने कहा कि टीएमसी नेतृत्व को आत्मावलोकन करना चाहिए कि राज्य में इस तरह के विरोध प्रदर्शन क्यों हो रहे हैं। यह दावा करते हुए कि लोग विभिन्न मुद्दों पर राज्य सरकार से नाराज हैं। उन्होंने कहा, “यह घटना राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति को दर्शाती है। यह पुलिस-प्रशासन की पूरी विफलता है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो