scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

UP Politics: 'ललकार कर कहा था मंत्री बनेंगे और बनकर दिखा दिया', ओपी राजभर बोले- मेरे पास मुख्यमंत्री से कम पावर नहीं

SBSP Chief OM Prakash Rajbhar: ओपी राजभर ने कहा कि दरोगा, डीएम, एसपी में पावर नहीं है कि फोन लगाकर पूछे कि मंत्री ने लोगों को भेजा है या नहीं। शोले में एक गब्बर सिंह था, तो मुझे भी गब्बर समझ लो।
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: March 07, 2024 09:14 IST
up politics   ललकार कर कहा था मंत्री बनेंगे और बनकर दिखा दिया   ओपी राजभर बोले  मेरे पास मुख्यमंत्री से कम पावर नहीं
Lok Sabha Elections: सुभासपा प्रमुख ओपी राजभर के मंत्री बनने के बाद तेवर बदल गए हैं। (@oprajbhar)
Advertisement

UP Politics: अपने बयानों लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने एक बार फिर कुछ ऐसा ही कहा है, जिससे वो एक बार फिर से सुर्खियों में आ गए हैं। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री बनने के बाद ओपी राजभर के तेवर बदल गए हैं।

ओपी राजभर ने एक बयान में खुद को गब्बर सिंह बताया है और अपने कार्यकर्ताओं को पीला गमछा डालकर थाने जाने की सलाह दी है। राजभर ने खुद की तुलना मुख्यमंत्री तक से कर डाली।

Advertisement

ओम प्रकाश राजभर ने कहा, 'आप लोगों ने देखा कि मुख्यमंत्री बैठकर ओम प्रकाश राजभर को शपथ दिला रहे थे। हम मंत्री बनेंगे- बोलो कहा था या नहीं? ललकार कर कहा था कि मंत्री बनेंगे और बनकर दिखा दिया। आज ओमप्रकाश राजभर के पास वो पावर है, जो पावर मुख्यमंत्री के पास है।'

सुभासपा प्रमुख ने कार्यकर्ताओं से कहा, 'मैं कहता हूं किसी थाने पर जाओ, लेकिन सफेद गमछा मत लगाओ। हमारा पीला गमछा लगाओ। पीला गमछा लगाकर जब थाने पर जाओगे तब तुम्हारी शक्ल में दरोगा को राजभर (ओम प्रकाश) दिखेगा। जाकर बता देना कि मंत्री जी ने भेजा है।'

ओपी राजभर इतने पर ही नहीं रुके। उन्होंने आगे कहा कि दरोगा, डीएम, एसपी में पावर नहीं है कि फोन लगाकर पूछे कि मंत्री ने लोगों को भेजा है या नहीं। शोले में एक गब्बर सिंह था, तो मुझे भी गब्बर समझ लो।

Advertisement

बता दें, उत्तर प्रदेश में योगी कैबिनेट का विस्तार मंगलवार को हुआ था। कैबिनेट के इस विस्तार में ओम प्रकाश राजभर, बीजेपी नेता दारा सिंह, सुनील शर्मा और रालोद के नेता अनिल कुमार ने लखनऊ के राजभवन में कैबिनेट मंत्री पद की शपथ ली थी। योगी 2.0 का ये पहला कैबिनेट विस्तार है। एनडीए में सुभासपा और रालोद नए सहयोगी के रूप में शामिल हुए हैं।

ओम प्रकाश राजभर की पार्टी सुभासपा साल 2004 से चुनाव लड़ रही है। राजभर ने 2022 के चुनाव में समाजवादी पार्टी से हाथ मिलाया। इस चुनाव में वह खुद जहूराबाद सीट से मैदान में थे। उन्होंने भाजपा के कालीचरण राजभर को हराकर जीत हासिल की थी। चुनाव में सपा गठबंधन को अपेक्षित सफलता नहीं मिलने के बाद अखिलेश यादव से उनके रिश्ते खराब हो गए। जिसके बाद राजभर सपा गठबंधन से बाहर हो गए। काफी दिन बाहर रहने के बाद फिर वो एनडीए का हिस्सा बन गए। जिसके बाद हाल ही में उन्हें मंत्री पद से नवाजा गया।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो