scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Tag religion story साल बाद मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे सूर्यदेव, ये 3 राशियां रहें सतर्क, नौकरी-सेहत पर पड़ेगा बुरा असर

Rajya Sabha LIVE: PM Modi राज्यसभा में विपक्ष के आरोपों का देंगे जवाब, हंगामा जारी | Parliament
Written by: qatesting
नई दिल्ली | Updated: July 03, 2024 12:00 IST
tag religion story साल बाद मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे सूर्यदेव  ये 3 राशियां रहें सतर्क  नौकरी सेहत पर पड़ेगा बुरा असर
Rajya Sabha LIVE: PM Modi राज्यसभा में विपक्ष के आरोपों का देंगे जवाब, हंगामा जारी | Parliament
Advertisement

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत हैग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

Advertisement

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

Advertisement

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत हैग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत हैग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

Advertisement

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

Advertisement

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत हैग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत हैग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

ग्रहों के राजा सूर्य एक निश्चिक अवधि के बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार,सूर्य करीब 1 माह बाद राशि परिवर्तन करते हैं। ऐसे में दोबारा एक राशि में आने में करीब एक साल का वक्त लग जाता है। इस समय सूर्य वृषभ राशि में विराजमान है। लेकिन 15 जून को राशि परिवर्तन करके मिथुन राशि में प्रवेश कर जाएंगे। बुध की राशि में प्रवेश करने से कुछ राशि के जातकों को बंपर लाभ मिल सकता है। लेकिन कुछ ऐसी राशियां है जिन्हें थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है, क्योंकि धन हानि के साथ नौकरी और बिजनेस में बुरा असर पड़ सकता है। आइए जानते हैं सूर्य के मिथुन राशि में जाने से किन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो