scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Farrukhabad: दो किलो का आलू देख किसान हैरान, खेत में लगा लोगों का तांता

मेहराज हुसैन ने कहा कि वह परंपरागत रूप से आलू की खेती करते हैं। आलू की फसल में रासायनिक के अलावा खाद का भी इस्तेमाल करते हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
March 05, 2024 11:40 IST
farrukhabad  दो किलो का आलू देख किसान हैरान  खेत में लगा लोगों का तांता
किसान के खेत में निकला दो किलो का आलू। (इमेज- ट्विटर @S_CRana_ji)
Advertisement

सब्जियों के राजा आलू का सोमवार को अजब-गजब रूप देखने को मिला। यूपी के फर्रुखाबाद में आलू की खुदाई का काम चल रहा है। इसमें दो किलो का आलू निकला है। इस आलू का रूप देख किसान भी हैरान रह गया। आलू देखने के बाद आस-पास गांवों के लोगों की भीड़ भी जमा हो गई। खेती करने वाले किसान का कहना है कि हमारे घर में कई पीढ़ियों से आलू की खेती की जा रही है, लेकिन हमने अपनी जिंदगी में पहली बार इतना बड़ा आलू देखा है।

फर्रुखाबाद जिला आलू की खेती करने के लिए जाना जाता है। सबसे बड़ी आलू मंडी भी इस जिले में मौजूद है और इसे एशिया की सबसे बड़ी आलू मंडी कहा जाता है। यहां से अपने देश में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी आलू कई क्विंटल निर्यात किया जाता है। इस वक्त खेतों में आलू की खुदाई का काम चल रहा है, जिसमें दो किलो का आलू निकला है। इसे देखकर खुद किसान भी हैरानी में पड़ गया।

Advertisement

दूसरे किसान पहुंचे आलू देखने

किसान मेहराज अपने खेत में आलू की पैदावार करते हैं। उन्होंने इस बार आलू की पैदावार के लिए ख्याति प्रजाति के बीज का इस्तेमाल किया था। जब उन्होंने खुदाई शुरू की तो कोई आलू आधा किलो तो कोई 700 ग्राम का निकला। वहीं एक आलू किलो से ज्यादा वजन का निकला। इस आलू की जानकारी मिलने के बाद आसपास के किसान भी इकट्ठा हो गए।

किसान भी आलू देख हैरान

मेहराज हुसैन ने कहा कि वह परंपरागत रूप से आलू की खेती करते हैं। आलू की फसल में रासायनिक के अलावा खाद का भी इस्तेमाल करते हैं। किसान ने कहा कि उनके खेत में आलू की पैदावार हमेशा अच्छी रहती है, लेकिन आज से पहले कभी भी इतने वजन का आलू खेत में पैदा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि प्रति बीघा 30 से 35 क्विंटल पैदावार हो रही है। एक बीघा आलू तैयार करने में करीब 12 हजार से ज्यादा का खर्च आया। मेहराज के खेत में इतना वजनी आलू निकलने के बाद दूसरे किसान उनसे खेती करने के तौर तरीकों की जानकारी हासिलर कर रहे हैं।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो