scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

गाय बनी दुल्हन और बैल बना दूल्हा, महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश पहुंची बारात; हुई अनोखी शादी

खरगोन जिला मुख्यालय से करीब 65 किलोमीटर दूर महेश्वर गांव में गाय और बैल की यह अनोखी शादी हुई है।
Written by: ट्रेंडिंग न्‍यूज टीम | Edited By: Avinash Tiwari
December 08, 2023 13:52 IST
गाय बनी दुल्हन और बैल बना दूल्हा  महाराष्ट्र से मध्य प्रदेश पहुंची बारात  हुई अनोखी शादी
फोटो सोर्स- Pexels
Advertisement

अनोखी शादी के कई किस्से अपने सुने होंगे। किसी की पेड़ से शादी हुई तो किसी की कुत्ते से। अनोखी शादियों के तमाम किस्से हैं। अब एक गाय और बैल की शादी की खूब चर्चा हो रही है। इस शादी में गाय दुल्हन की तरह तैयार किया गया और बैल को दूल्हे की तरफ सजाया गया और फिर बारात निकाली गई।

मध्य प्रदेश के खरगोन जिला मुख्यालय से करीब 65 किलोमीटर दूर महेश्वर गांव में गाय और बैल की यह अनोखी शादी हुई है। महाराष्ट्र के जलगांव जिले से बारात आई, जिसमें 50 से अधिक गांव के भरवाड़ समाज और मालधारी समाज के लोगों ने यह अनोखा आयोजन किया।

Advertisement

महाराष्ट्र राणा भगत ने कहा कि उन्हें विचार आया कि गाय और बैल की शादी कराई जाए। पुराने ऋषि, महात्मा गाय और बैल का विवाह कराते रहते थे। इसे शिव विवाद माना जाता है। उन्होंने बताया कि हमने अहिल्या माता की नगरी महेश्वर में गाय बैल का विवाह कराया है। इसमें सभी समाज के लोग शामिल हुए हैं।

ग्रामीणों ने इस विवाद को 'शिव विवाह' नाम दिया है। इस विवाद में गाय (नंदिनी) से शादी करने के लिए बैल (नंदकिशोर) बारात लेकर पहुंचे और पूरे विधि विधान से दोनों की शादी हुई। दोनों की उम्र करीब 12 महीने बताई जा रही है। इस शादी में दूल्हा, दुल्हन, बारात और डीजे सब कुछ था। सब मिलकर डांस करते हुए खुशी-ख़ुशी इस शादी में शामिल हुए।

Advertisement

अब इस अनोखी शादी की खूब चर्चा हो रही है। इस शादी को लेकर लोगों में काफी उत्सुकता भी है। वहीं शादी का आयोजन कराने वाले महाराष्ट्र निवासी राणा भगत ने कहा कि जब मैं गुजरात से महाराष्ट्र आए तो मैंने सोचा कि महेश्वर में मैं अनुष्ठान करूंगा। पुराने जो ऋषि महात्मा थे वो गाय और बैल का विवाह करते थे।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो