scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

TPSC Paper Leak: तेलंगाना लोक सेवा आयोग ने रद्द कीं तीन भर्ती परीक्षाएं, जानिए क्या थी वजह और कब आएगी एग्जाम की नई डेट

आयोग की प्रेस रिलीज में कहा गया है कि ग्रुप-1 की प्रारंभिक परीक्षा 11 जून को फिर से आयोजित करने का निर्णय लिया गया है जबकि दो अन्य परीक्षाओं की तारीखों का ऐलान जल्द किया जाएगा।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: shruti srivastava
March 19, 2023 13:59 IST
tpsc paper leak  तेलंगाना लोक सेवा आयोग ने रद्द कीं तीन भर्ती परीक्षाएं  जानिए क्या थी वजह और कब आएगी एग्जाम की नई डेट
तस्वीर का इस्तेमाल प्रस्तुतिकरण के लिए किया गया है (Source- Representational Image/ Indian Express)
Advertisement

तेलंगाना राज्य लोक सेवा आयोग ने तीन भर्ती परीक्षाएं रद्द कर दीं। TSPSC ने शुक्रवार को 16 अक्टूबर 2022 को आयोजित ग्रुप-1 प्रारंभिक परीक्षा को रद्द करने की घोषणा की। एक बयान में TSPSC ने कहा कि विशेष जांच दल (SIT) की एक रिपोर्ट और आयोग द्वारा आयोजित एक आंतरिक जांच के बाद यह निर्णय लिया गया।

तेलंगाना लोक सेवा आयोग ने तीन भर्ती परीक्षाएं रद्द की

तेलंगाना राज्य लोक सेवा आयोग ने शुक्रवार को समूह-एक प्रारंभिक परीक्षा (Group-I preliminary test) और दो अन्य इम्तिहान रद्द कर दिए. आयोग ने एक प्रेस रिलीज में कहा कि अक्टूबर 2022 में हुई समूह-एक परीक्षा और इस साल हुई सहायक कार्यकारी अभियंता (Assistant Executive Engineer) और मंडल लेखा अधिकारी (Divisional Accounts Officer) परीक्षा को रद्द करने का फैसला लिया।

Advertisement

टीएसपीएससी परीक्षा के पेपर लीक होने पर चल रहे विवाद को देखते हुए आयोग ने 5 मार्च, 2023 को आयोजित सहायक अभियंता (सिविल) के पद के लिए परीक्षा रद्द कर दी थी और टाउन प्लानिंग के पदों के लिए परीक्षा स्थगित कर दी थी। 12 मार्च को बिल्डिंग ओवरसियर और 15 और 16 मार्च को पशु चिकित्सा सहायक सर्जन की परीक्षाएं भी रद्द कर दी गईं।

इन तारीखों पर दोबारा आयोजित की जाएंगी परीक्षाएं

TSPSC के अनुसार, "22 जनवरी 2023 को आयोजित AEE परीक्षा और 26 फरवरी 2023 को आयोजित मंडल लेखा अधिकारी (DAO) परीक्षा रद्द कर दी गई है। 11 जून 2023 को फिर से ग्रुप 1 प्रीलिम्स आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। अन्य परीक्षाओं के दोबारा आयोजन की तारीख जल्द ही सूचित की जाएगी।” उस समय ग्रुप-1 की प्रारंभिक परीक्षा में कम से कम 2.8 लाख लोग शामिल हुए थे और उनमें से लगभग 25,000 ने मुख्य परीक्षा के लिए क्वालीफाई किया था।

Also Read
Advertisement

SIT को को सौंपी गई थी जांच

11 मार्च को, बेगम बाजार ने टीएसपीएससी की एक शिकायत के आधार पर एक जांच शुरू की थी जिसमें उसके सुरक्षित सिस्टम की संदिग्ध हैकिंग का आरोप लगाया गया था। जांच में पांच सरकारी कर्मचारियों सहित नौ लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने अपनी जांच में पाया था कि गिरफ्तार आरोपियों में दो टीएसपीएससी कर्मचारी शामिल हैं, जिन्होंने आयोग तक अपनी पहुंच का दुरुपयोग किया और विभागों से प्रश्न पत्र चुराने के लिए एक अन्य कर्मचारी की साख का इस्तेमाल किया। आगे की पूछताछ के लिए जांच एसआईटी को सौंप दी गई।

Advertisement

कांग्रेस, भारतीय जनता पार्टी और अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया सहित विभिन्न छात्र संगठन विरोध कर रहे हैं। टीएसपीएससी के अध्यक्ष बी जनार्दन रेड्डी के इस्तीफे की मांग को लेकर मंगलवार को शुरू हुआ विरोध प्रदर्शन राजनीतिक दलों और उनके नेताओं के कूदने के साथ और तेज हो गया है। प्रदर्शनकारी तेलंगाना उच्च न्यायालय के एक सिटिंग जज द्वारा निष्पक्ष जांच की भी मांग कर रहे हैं।

Advertisement
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो