scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

रविवारी नुस्‍खे: अनियंत्रित गुस्से को इन विधियों से करें शांत

आलोचना करने या दोषारोपण करने से केवल तनाव बढ़ सकता है। इसके बजाय, समस्या का वर्णन करने के लिए मैं कथन का उपयोग करें।
Written by: जनसत्ता | Edited By: Bishwa Nath Jha
नई दिल्ली | Updated: January 07, 2024 14:26 IST
रविवारी नुस्‍खे  अनियंत्रित गुस्से को इन विधियों से करें शांत
प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर। फोटो- (इंडियन एक्‍सप्रेस)।
Advertisement

जब कोई रास्ता काट देता है तो क्या आप क्रोधित हो जाते हैं? जब आपका बच्चा सहयोग करने से इनकार करता है तो क्या आपका रक्तचाप बढ़ जाता है? गुस्सा एक सामान्य और स्वस्थ भावना भी है। लेकिन इससे सकारात्मक तरीके से निपटना महत्त्वपूर्ण है। अनियंत्रित गुस्सा स्वास्थ्य और रिश्तों दोनों पर भारी पड़ सकता है। गुस्सा क्षण में आता है, इसलिए यह क्षण बेहद अहम है।

बोलने से पहले सोचें

क्षण भर की गर्मी में, कुछ ऐसा कहना आसान होता है जिसके लिए आपको बाद में पछताना पड़े। कुछ भी कहने से पहले अपने विचारों के लिए कुछ क्षण निकालें। साथ ही स्थिति में शामिल अन्य लोगों को भी ऐसा करने की अनुमति दें।

Advertisement

थोड़ा व्यायाम करें

शारीरिक गतिविधि उस तनाव को कम करने में मदद कर सकती है। यदि आपको लगता है कि आपका गुस्सा बढ़ रहा है, तो तेज चाल से चलें या दौड़ें। या अन्य शारीरिक गतिविधियों में कुछ समय व्यतीत करें।

छोटा विश्राम

विश्राम सिर्फ बच्चों के लिए नहीं है। दिन के तनावपूर्ण समय में अपने लिए छोटे-छोटे विश्राम लें। इस आराम समय के कुछ क्षण आपको चिड़चिड़ाहट या क्रोधित हुए बिना आगे की स्थिति को संभालने के लिए बेहतर ढंग से तैयार महसूस करने में मदद कर सकते हैं।

Advertisement

‘मैं’ कथन पर कायम रहें

आलोचना करने या दोषारोपण करने से केवल तनाव बढ़ सकता है। इसके बजाय, समस्या का वर्णन करने के लिए मैं कथन का उपयोग करें। सम्मानजनक और विशिष्ट बनें। उदाहरण के लिए, आप कभी भी घर का कोई काम नहीं करते हैं के बजाय कहें, मैं इस बात से परेशान हूं कि आपने बर्तन उठाने में मदद किए बिना ही मेज छोड़ दी।

Advertisement

द्वेष न रखें

क्षमा शब्द बहुत शक्तिशाली है। यदि आप क्रोध और अन्य नकारात्मक भावनाओं को सकारात्मक भावनाओं पर हावी होने देते हैं, तो हो सकता है कि आप खुद को अपनी कड़वाहट या अन्याय की भावना से निगल लें। जिस व्यक्ति ने आपको क्रोधित किया उसे क्षमा करने से आप दोनों को स्थिति से सीखने और अपने रिश्ते को मजबूत करने में मदद मिल सकती है।

विश्राम कौशल का अभ्यास करें

जब आपका गुस्सा भड़क उठे, तो विश्राम कौशल को काम में लाएं। गहरी सांस लेने के व्यायाम का अभ्यास करें, एक आरामदायक दृश्य की कल्पना करें, या एक शांत शब्द या वाक्यांश दोहराएं, जैसे आराम से करें। आप संगीत भी सुन सकते हैं, जर्नल में लिख सकते हैं या कुछ योगासन कर सकते हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो