scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

जून में शनि चलेंगे उल्टी चाल, इन 3 राशियों की बढ़ेगी मुश्किलें, बिजनेस ठप होने के साथ नौकरी में आएगी परेशानी

Saturn Retrograde 2024: कर्मफल दाता शनि जल्द ही कुंभ राशि में वक्री होने वाले हैं। ऐसे में इन तीन राशियों को संभलकर रहने की जरूरत है..
Written by: Shivani Singh
नई दिल्ली | Updated: April 25, 2024 12:10 IST
जून में शनि चलेंगे उल्टी चाल  इन 3 राशियों की बढ़ेगी मुश्किलें  बिजनेस ठप होने के साथ नौकरी में आएगी परेशानी
Shani Vakri 2024: शनि कुंभ राशि नें होने वाले हैं वक्री
Advertisement

Shani Vakri 2024: नवग्रहों में से एक शनि को कर्मफल दाता और न्याय के देवता कहा जाता है। वह जातकों को उनके कर्मों के हिसाब से फल देते हैं। शनिदेव अगर किसी जातक के ऊपर प्रसन्न है, तो उसे रंक से राजा बना देते हैं और रुष्ट होने पर पूरा जीवन तहस नहस कर देते है। ऐसे ही शनि के राशि परिवर्तन करने का असर 12 राशियों के जीवन में काफी अधिक पड़ता है। शनि को प्रतिबद्धता का कारक कहा जाता है। वह व्यक्ति को अनुशासन सिखाना अच्छी तरह से जानते हैं। इन्हीं गुणों को पालन करके जातक अपने लक्ष्यों को पाने में सफल हो पाता है। बता दें कि शनि सबसे धीमी गति से चलने वाला ग्रह माना जाता है। वह एक राशि में करीब ढाई साल तक रहते हैं। ऐसे में एक राशि में दोबारा आने में करीब 30 साल का वक्त लगता है।

शनि इस समय अपनी मूल त्रिकोण राशि कुंभ राशि में विराजमान है और इसी राशि में पूरे साल रहने वाले हैं। लेकिन समय-समय पर स्थिति में बदलाव के साथ नक्षत्र परिवर्तन करते रहेंगे। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, कर्मफल दाता शनि 29 जून को कुंभ राशि में ही वक्री होने वाले हैं। जहां वह वक्री अवस्था में 15 नवंबर 2024 तक रहेंगे। शनि के वक्री होने से कुछ राशि के जातकों को लाभ, तो कुछ को संभलकर रहने की जरूरत है। आइए जानते हैं शनि की उल्टी चाल चलने से किन राशियों को रहना होगा सावधान…

Advertisement

इन जातकों को शनि देव करते हैं सबसे अधिक परेशान, स्वास्थ्य और करियर पर पड़ता बुरा असर, ऐसे करें इन्हें शांत

मेष राशि

इस राशि के ग्यारहवें भाव में शनि वक्री होने वाले हैं। ऐसे में इस राशि के जातकों के लिए शनि का उल्टी चाल चलना लाभकारी सिद्ध नहीं होगा। पैसों संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। धन लाभ को लेकर कम संतुष्ट हो सकते है। इस समय अवधि में आपकी कई इच्छाएं पूरी नहीं होगी। इससे आपको मानसिक हानि का सामना करना पड़ सकता है। धन संबंधित कोई भी काम थोड़ा सोच-समझकर करें, तभी बचत करने में कामयाब हो सकते हैं। स्वास्थ्य पर उल्टा असर पड़ सकता है। ऐसे में स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा सजग रहें। बिजनेस में किसी भी प्रकार का निवेश करने से पहले जांच-पड़ताल जरूर कर लें, क्योंकि धन हानि के योग बन रहे हैं। छोटे से काम के लिए आपको अधिक मेहनत करनी पड़ सकती है। आप थोड़े आलसी और सुस्त भी हो सकते हैं। लव लाइफ के मामले में भी थोड़ा सजग रहें। इसके साथ ही वैवाहिक जीवन में किसी न किसी प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। इन समस्याओं से बचने के लिए शनिवार के दिन शनिदेव की पूजा करने के साथ सरसों का तेल अर्पित करें।

वृषभ राशि

शनि का कुंभ राशि में रहना इस राशि के जातकों के लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। लेकिन जैसे ही शनि अपनी चाल बदलेंगे, तो इस राशि के जातकों को थोड़ा संभलकर रहने की जरूरत है। कार्यक्षेत्र में आपके ऊपर अधिक दबाव होगा। अधिक काम करने के बावजूद आपको सराहना नहीं मिलेगी। इससे आप मायूस हो सकते हैं। टारगेट पूरा न होने पर उच्च अधिकारी आपसे नाराज हो सकते हैं। ऐसे में आपके प्रमोशन पर असर पड़ सकता है। बिजनेस में भी ज्यादा लाभ मिलने के आसार नजर नहीं आ रहे हैं। परिवार की शांति भंग हो सकती है। इसके साथ ही कोशिश करें कि थोड़ा शांत और अपने काम से मतलब रखें। शनिदेव की कृपा बनी रहे इसके लिए शनिदेव की विधिवत पूजा करें शनिवार को काले रंग के कपड़े धारण करें।

Advertisement

कन्या राशि

इस राशि के छठे भाव में शनि वक्री होने वाले हैं। ऐसे में इस राशि के जातकों को मिल रहे लाभ कुछ अवधि के लिए कम हो सकते हैं। करियर की बात करें, तो ज्यादा अच्छा नहीं जाने वाली है। सहकर्मियों से किसी बात को लेकर मनमुटाव हो सकता है। इसलिए कोशिश करें कि किसी दूसरे के मामलों पर अपनी टांग न अड़ाएं। इससे आपको ही हानि का सामना करना पड़ेगा। मेहनत तो अधिक करेंगे, लेकिन सफलता उतनी नहीं मिलेगी। ऐसे में आप थोड़ा तनाव का सामना कर सकते हैं। धन लाभ भी अच्छा नहीं होगा। आय के स्रोत इस अवधि में सीमित हो सकते हैं। ऐसे में आप थोड़ा कम संतुष्ट रह सकते हैं। सेहत का अधिक ख्याल रखने की जरूरत है।

डिसक्लेमर- इस लेख में दी गई किसी भी जानकारी की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों जैसे ज्योतिषियों, पंचांग, मान्यताओं या फिर धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है। इसके सही और सिद्ध होने की प्रामाणिकता नहीं दे सकते हैं। इसके किसी भी तरह के उपयोग करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह जरूर लें।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो