scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

2025 में इन राशियों पर शुरू होगी साढ़ेसाती और ढैय्या, शनि बरपाएंगे कहर, जानिए उपाय

शनि देव साल 2025 में मीन राशि में गोचर करने जा रहे हैं। जिससे मेष राशि के जातकों को पर साढ़ेसाती शुरू होगी...
Written by: Astro Aditya Gaur
नई दिल्ली | July 07, 2024 11:14 IST
2025 में इन राशियों पर शुरू होगी साढ़ेसाती और ढैय्या  शनि बरपाएंगे कहर  जानिए उपाय
2025 में शनि देव करेंगे गोचर-
Advertisement

Shani Gochar 2025: वैदिक ज्योतिष अनुसार जब भी शनि देव की चाल में बदलाव होता है। कुछ राशियों पर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या शुरू होती है। तो कुछ राशियों को साढ़ेसाती और ढैय्या के अशुभ प्रभाव से मुक्ति मिलती है। आपको बता दें कि साल 2025 की शुरुआत में शनि देव अपनी मूल त्रिकोण राशि कुंभ से निकलकर मीन राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं। जिससे कुछ राशियों को साढ़ेसाती और ढैय्या से मुक्ति मिलने वाली है, वहीं कुछ राशियों पर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव शुरू होने वाला है। आइए जानते हैं ये राशियां कौन सी हैं…

Advertisement

इन राशियों पर शुरू होगी साढ़ेसाती

वैदिक ज्योतिष अनुसार शनि देव के मीन राशि में गोचर से मकर राशि वालों को साढ़ेसाती से मुक्ति मिल जाएगी। वहीं आपको बता दें कि मेष राशि वालों पर साढ़ेसाती का प्रथम चरण शुरू जाएगा। साथ ही कुंभ और मीन राशि के जातकों पर साढ़ेसाती का प्रभाव रहेगा। इसलिए इन राशि के जातकों को किस्मत का कम ही साथ मिलेगा। साथ ही बनते-बनते काम रुक सकते हैं। वहीं व्यापार धीमा चल सकता है। साथ ही नौकरी के अवसर कम ही प्राप्त होंगे। वहीं इस समय सेहत खराब हो सकती है। साथ ही नौकरीपेशा लोगों का मनचाहा प्रमोशन नहीं मिल सकता है।

Advertisement

इन राशियों पर शुरू होगी शनि की ढैय्या

शनि देव के मीन राशि में गोचर से कर्क और वृश्चिक राशि के जातकों को ढैय्या से मुक्ति मिलेगी। तो वहीं सिंह और धनु राशि के जातकों पर शनि की ढैय्या शुरू होगी। ऐसे में इन राशियों के जातकों को नया काम बहुत सोच- समझकर शुरू करना चाहिए। साथ ही इस समय स्वास्थ्य को लेकर सचेत रहना चाहिए। वहीं नौकरी बदलने से बचना चाहिए। साथ ही धन का निवेश सोच- समझकर करना चाहिए।

करें ये उपाय

1- शनिवार के दिन कुत्ते, कौवे, गाय, दिव्यांग, रोगी आदि के साथ भोजन ही करवाएं। साथ ही इस दिन एकाक्षरी मंत्र ‘ऊँ शं शनैश्चाराय नमः’ का सुबह शाम 108 बार जप करें।

2- हर शनिवार पीपल के पेड़ पर सरसों के तेल में लोहे की कील डालकर चढ़ाएं। पीपल के पेड़ के चारों तरफ कच्चा सूत 7 बार लपेटे। ऐसा करने से शनि दोष से मुक्ति मिलती है।

Advertisement

3- हर शनिवार और मंगलवार शनिदेव के साथ साथ भगवान शिव और हनुमानजी की भी आराधना  करें। साथ ही सुबह शाम हनुमान चालीसा या सुंदरकांड का पाठ अवश्य करें। ऐसे करने से शनिदेव के अशुभ प्रभाव से मुक्ति मिलेगी।

Advertisement

4- प्रत्येक शनिवार काले कपड़े, काले जूते, काली दाल का दान करें। ऐसा करने से आपकी आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा।

यह भी पढ़ें:

मेष राशि का वर्षफल 2024वृष राशि का वर्षफल 2024
मिथुन राशि का वर्षफल 2024 कर्क राशि का वर्षफल 2024
सिंह राशि का वर्षफल 2024 कन्या राशि का वर्षफल 2024
तुला राशि का वर्षफल 2024वृश्चिक राशि का वर्षफल 2024
धनु राशि का वर्षफल 2024
मकर राशि का वर्षफल 2024मीन राशि का वर्षफल 2024
कुंभ राशि का वर्षफल 2024
Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो