scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

UPSC 2023: योगी सरकार की फ्री 'अभ्युदय' कोचिंग लायी रंग! 20 ने किया यूपीएससी क्लीयर

UPSC 2023: मुफ्त कोचिंग की सुविधा देने के मकसद से अभ्युदय पहल फरवरी 2021 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शुरू की गई थी।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Mohammad Qasim
नई दिल्ली | Updated: April 17, 2024 21:27 IST
upsc 2023  योगी सरकार की फ्री  अभ्युदय  कोचिंग लायी रंग  20 ने किया यूपीएससी क्लीयर
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। (PTI)
Advertisement

उत्तर प्रदेश सरकार की मुफ्त ‘मुख्यमंत्री अभ्युदय कोचिंग’ के तहत सिविल सेवा की तैयारी कर रहे 20 उम्मीदवारों ने इस बार लिस्ट में अपनी जगह बनाई है। पिछली बार यह संख्या 13 थी। राज्य सेवाओं, रक्षा सेवाओं के साथ-साथ मेडिकल और इंजीनियरिंग के छात्रों के लिए मुफ्त कोचिंग की सुविधा देने के मकसद से अभ्युदय पहल फरवरी 2021 में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शुरू की गई थी।

किस छात्र को मिली कौनसी रैंक?

मुख्यमंत्री अभ्युदय कोचिंग के छात्र ऋषभ भट्ट 363 रैंक मिली है। क्षितिज आदित्य शर्मा रैंक-384, मुद्रा रहेजा रैंक-413, जयविंद कुमार गुप्ता-557, अफजल अली-574, प्रज्वल चौरसिया-694, रूपम सिंह-725, मनोज कुमार-807, भारती साहू-850, श्रुति शरवन-882, मनीषा धुर्वे-257, अंतरिक्ष कुमार-883, पिंकी मसीह-948, शिवम अग्रवाल-541, मनीष परिहार-734, रजत यादव-799, प्रदुमन कुमार 941, शशांक चौहान 642 और पवन कुमार (816) के नाम शामिल हैं।

Advertisement

योगी सरकार के मंत्री ने क्या कहा?

उत्तर प्रदेश के समाज कल्याण मंत्री असीम अरुण ने मंगलवार को एक्स पर पोस्ट किया और लिखा--'मुख्यमंत्री अभ्युदय कोचिंग के अभ्यर्थियों ने एक बार फिर सफलता का झंडा लहराया है।'

असीम अरुण ने कहा-- "अब तक एकत्र की गई जानकारी के अनुसार 20 उम्मीदवारों ने सिविल सेवा परीक्षा 2023 की अंतिम सूची में जगह बनाई है, सभी सफल उम्मीदवारों, शिक्षकों और पाठ्यक्रम प्रबंधकों को बहुत-बहुत बधाई और शुभकामनाएं।" मंत्री ने इस सफलता के लिए उम्मीदवारों की कड़ी मेहनत को श्रेय दिया और यह भी कहा कि आईएएस (भारतीय प्रशासनिक सेवा) अधिकारियों, आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा) अधिकारियों और अन्य अनुभवी व्यक्तियों के व्याख्यानों और सत्रों ने इस पहल में मदद की।

अभ्युदय कोचिंग सेंटर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की एक पसंदीदा योजना है जिसकी परिकल्पना उन्होंने 2021 में COVID-19 महामारी के बीच की थी।

Advertisement

अधिकारियों के अनुसार, अभ्युदय कोचिंग सेंटर राज्य के सभी जिलों में काम कर रहे हैं और यूपीएससी, राज्य सेवाओं, मेडिकल कॉलेजों और इंजीनियरिंग कॉलेजों के उम्मीदवारों को मुफ्त कोचिंग प्रदान कर रहे हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो