scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

हिंदू धर्म छोड़ बनना चाहते हैं बौद्ध, पहले लेनी होगी इजाजत, गुजरात सरकार ने जारी किया सर्कुलर

Hindu to Buddhism: गुजरात में हर दशहरा और अन्य त्योहारों के मौके पर आयोजित कार्यक्रमों में ज्यादातर दलितों को सामूहिक रूप से बौद्ध धर्म अपनाते देखा जा रहा है।
Written by: परिमल दबही | Edited By: Yashveer Singh
अहमदाबाद | Updated: April 11, 2024 13:34 IST
हिंदू धर्म छोड़ बनना चाहते हैं बौद्ध  पहले लेनी होगी इजाजत  गुजरात सरकार ने जारी किया सर्कुलर
बौद्ध धर्म अपनाने से पहले लेनी होगी इजाजत (File Photo - Express)
Advertisement

गुजरात सरकार द्वारा एक सर्कुलर जारी कर यह स्पष्ट किया गया है कि बुद्धिज्म को एक अलग धर्म माना जाना चाहिए और हिंदू धर्म छोड़ से बौद्ध, जैन या सिख धर्म अपनाने से पहले गुजरात फ्रीडम ऑफ रिलीजन एक्ट 2003 के तहत डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट से इजाजत लेना जरूरी है।

द इंडियन एक्सप्रेस में छपी रिपोर्ट के अनुसार, यह सर्कुलर गुजरात सरकार के गृह विभाग द्वारा 8 अप्रैल को जारी किया गया था। दरअसल सरकार ने यह पाया था कि बौद्ध धर्म अपनाने के लिए आने वाले आवेदनों को नियम के तहत नहीं ट्रीट किया जा रहा था। गृह विभाग द्वारा जारी किए गए सर्कुलर पर डिप्टी सेक्रेटरी विजय बधेका के साइन हैं।

Advertisement

आपको बता दें कि गुजरात में हर दशहरा और अन्य त्योहारों के मौके पर आयोजित कार्यक्रमों में ज्यादातर दलितों को सामूहिक रूप से बौद्ध धर्म अपनाते देखा जा रहा है।

2021 में गुजरात सरकार ने किया था रिलीजन एक्ट में संशोधन

आपको बता दें कि गुजरात सरकार गुजरात फ्रीडम ऑफ रिलीजन एक्ट लेकर आई थी। इस एक्ट के जरिए सरकार का मकसद लालच देकर, बलपूर्वक, गलत बयानबाजी या किसी अन्य गलत तरीके से धर्म परिवर्तन रोकना था। साल 2021 में गुजरात सरकार ने विवाह के जरिए जबरन धर्म परिवर्तन पर रोक लगाने वाले एक्ट में संशोधन किया।

इस कानून के तहत अधिकतम 10 साल तक की जेल और 5 लाख रुपये तक जुर्माने जैसे प्रावधान हैं और आरोपी को खुद सबूत देने होते हैं। ऐसे मामलों की जांच DSP लेवल से नीचे का अधिकारी नहीं कर सकता है। गुजरात सरकार द्वारा किए गए इस संशोधन को गुजरात हाई कोर्ट में चैलेंज किया गया है, जहां यह मामले पेंडिंग है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो