scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Mathura Lok Sabha: प्रेमानंद महाराज से मिलने पहुंचीं हेमा मालिनी, संत बोले- 10 साल तो आप विजयी रही ही हैं…

हेमा मालिनी से कहा कि आप तो श्री कृष्णा की भक्ति करती हैं और आप तो तिलक भी लगाई हुईं हैं।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Nitesh Dubey
नई दिल्ली | Updated: April 07, 2024 16:58 IST
mathura lok sabha  प्रेमानंद महाराज से मिलने पहुंचीं हेमा मालिनी  संत बोले  10 साल तो आप विजयी रही ही हैं…
हेमा मालिनी ने प्रेमानंद महाराज से मुलाकात की। (फोटो सोर्स: सोशल मीडिया)
Advertisement

उत्तर प्रदेश की मथुरा लोकसभा सीट से सांसद और भाजपा प्रत्याशी हेमा मालिनी आचार्य प्रेमानंद महाराज जी से मिलने उनके आश्रम पहुंची थीं। लोकसभा चुनाव से पहले वह प्रेमानंद से आशीर्वाद लेने मथुरा पहुंची थी। प्रेमानंद महाराज ने हेमा मालिनी से कहा कि आप तो श्री कृष्णा की भक्ति करती हैं और आप तो तिलक भी लगाई हुईं हैं।

हेमा मालिनी को आशीर्वाद देते हुए प्रेमानंद महाराज ने कहा, "आपका संतों से सानिध्य रहता ही है और भगवत चरणों का आश्रय है ही, तो लौकिक विजय क्या परलौकिक विजय भी आप प्राप्त कर सकती हैं। श्री कृष्ण अनुराग पारलौकिक विजय है और आप तो भगवान के चरण तो चूमती ही रहती हैं। वैसे भी आप 10 वर्ष तक विजयी रही ही हैं। आगे के लिए भी उत्साह है ही।"

Advertisement

इसके बाद हेमा मालिनी कहती हैं कि इसबार और अच्छा करना है। हेमा मालिनी सामान्य श्रद्धालुओं की तरह ही प्रेमानंद महाराज के आश्रम पहुंची थीं। 20 मिनट तक एकांत में उन्होंने प्रेमानंद महाराज से वार्ता कर आध्यात्म पर चर्चा की।

मथुरा लोकसभा सीट पर दूसरे चरण में वोटिंग होगी। यह सीट सपा कांग्रेस गठबंधन के तहत कांग्रेस के पास गई है। इस सीट से कांग्रेस ने मुकेश धनगर को प्रत्याशी बनाया है। हालांकि यहां पर कांग्रेस के अंदर विरोध भी हो रहा है। कांग्रेस नेता योगेश तलान ने पार्टी से टिकट नहीं मिलने पर निर्दलीय नामांकन कराया। हालांकि कांग्रेस की ओर से अधिकृत प्रत्याशी मुकेश धनगर ही हैं।

Advertisement

मथुरा सीट से पहले कांग्रेस के प्रत्याशी के तौर पर विजेंद्र सिंह का नाम चल रहा था। विजेंद्र भारत के लिए ओलंपिक में मेडल ला चुके हैं। हालांकि तीन दिन पहले ही वह बीजेपी में शामिल हो गए और इससे कांग्रेस को बड़ा झटका लगा। इसके बाद कांग्रेस ने मुकेश धनगर को प्रत्याशी बनाया।

Advertisement

मथुरा का जातीय समीकरण

मथुरा लोकसभा सीट पर जाट मतदाताओं की संख्या सबसे अधिक है। जाट मतदाता करीब चार लाख है। तो वहीं ब्राह्मण और ठाकुर मतदाताओं की संख्या लगभग तीन-तीन लाख है। धनगर मतदाताओं की संख्या 80 हजार है और दलित वोटरों की संख्या दो लाख है। यादव मतदाताओं की संख्या भी करीब 70 हजार है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो