scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

झारखंड के मंत्री हफीजुल हसन की शपथ को लेकर क्यों मचा सियासी घमासान? BJP ने राज्यपाल से की शिकायत

हेमंत सोरेन के कैबिनेट में शामिल मंत्री हफीजुल हसन के शपथ ग्रहण के तरीके पर बीजेपी ने सवाल खड़े किए हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: July 08, 2024 23:31 IST
झारखंड के मंत्री हफीजुल हसन की शपथ को लेकर क्यों मचा सियासी घमासान  bjp ने राज्यपाल से की शिकायत
झारखंड के मंत्री हफीजुल हसन। (इमेज-एक्स/स्क्रीनग्रैब)
Advertisement

Jharkhand Minister Hafizul Hasan: झारखंड में सोमवार को हेमंत सोरेन सरकार ने बहुमत साबित करने के बाद मंत्रिमंडल का गठन भी किया। राजभवन में 11 मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। इसमें मंत्री हफीजुल हसन की शपथ को लेकर विवाद खड़ा हो गया। जब उनको शपथ दिलाने के लिए बुलाया गया तो उन्होंने शपथ की शुरुआत ही बिस्मिल्लाह के साथ में की। इस पर भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने आपत्ति जताई है। इतना ही नहीं, राष्ट्रगान के समय उनके कपड़े सही करने का वीडियो भी खूब तेजी से वायरल हो रहा है। बीजेपी नेताओं ने राज्यपाल से राजभवन जाकर मुलाकात की और ज्ञापन भी सौंपा।

Advertisement

शपथ के दौरान उन्होंने बिस्मिल्लाह रहमानिर रहीम कहा। बीजेपी ने इस पर नाराजगी जताते हुए इसे असंवैधानिक बताया। बीजेपी ने राज्यपाल से अपील करते हुए कहा कि इन्हें पदभार ग्रहण ना करने दिया जाए। इस मामले पर असम के सीएम हिमंत बिस्वा सरमा ने भी कड़ी आपत्ति जताई है।

Advertisement

हिमंत बिस्वा सरमा ने भी जताई आपत्ति

मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर इसका वीडियो पोस्ट करते हुए लिखा कि झारखण्ड राज्य में मंत्री ऐसे शपथ लेते हैं। हम चुप नहीं बैठेंगे। राज्य के नेता प्रतिपक्ष अमर कुमार बाउरी ने राज्यपाल से आग्रह किया है कि हफीजुल हसन को कार्यभार ग्रहण ना करने दें। यह शपथ पूरी तरह से अमान्य है और संविधान के खिलाफ भी है।

इसके अलावा शपथ ग्रहण समारोह का एक और वीडियो भी है जो तेजी से वायरल हो रहा है। इसमें देखा जा सकता है कि राष्ट्रगान चल रहा है और सभी लोग अटेंशन की मुद्रा में खड़े हुए हैं। अचानक से मंत्री हफीजुल गले में लिपटे हुए अपने स्कार्फ को सही करने में लगे हुए हैं।

Advertisement

कौन हैं हफीजुल हसन?

हफीजुल हसन झारखंड की राजनीति में काफी मशहूर नाम है। वह बिना विधायक बने भी मंत्री का पदभार संभाल चुके हैं। फरवरी 2021 में हफीजुल हसन ने मंत्री पद की शपथ ली थी। उस दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन थे। जब हसन ने मंत्री पद की शपथ ली थी तब वह विधायक भी नहीं थे। हफीजुल हसन, हाजी हुसैन अंसारी के बेटे हैं। हाजी हुसैन अंसारी शिबू सोरेन के करीबी माने जाते हैं। उनका निधन साल 2020 में हो गया था। इसके बाद उनकी जगह उनके बेटे को मंत्री बनाया गया है। एक बार फिर से उन्हें खेल के अलावा कई विभागों की जिम्मेदारी भी दी गई है। इसमें अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, पर्यटन, कला संस्कृति और युवा कार्य विभाग शामिल है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो