scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

यूपी के फर्रुखाबाद में भी ज्ञानवापी जैसा मामला, कोर्ट के आदेश पर हुआ रशीद मियां के मकबरे का सर्वे, हिंदू पक्ष ने बताया मंदिर

हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ता प्रदीप सक्सेना ने कहा कि शिव मंदिर को तोड़कर रशीद मियां के मकबरे को बनवाया गया है।
Written by: न्यूज डेस्क
February 08, 2024 14:57 IST
यूपी के फर्रुखाबाद में भी ज्ञानवापी जैसा मामला  कोर्ट के आदेश पर हुआ रशीद मियां के मकबरे का सर्वे  हिंदू पक्ष ने बताया मंदिर
सांकेतिक तस्वीर। (इमेज - X.com)
Advertisement

Farrukhabad Tomb or Temple: ज्ञानवापी का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ है कि अब फर्रुखाबाद में भी ऐसा ही मामला सामने आ रहा है। कायमगंज क्षेत्र के गांव मऊ रशीदाबाद स्थित नवाब रशीद खां का मकबरा काफी सालों पुराना है। इस मकबरे को लेकर कोर्ट में केस फाइल किया गया है। रशीद मियां के मकबरे की देखभाल पुरातत्व विभाग के द्वारा की जाती है। कोर्ट के आदेश के बाद इसका सर्वेक्षण किया गया था और अब अमीन को अपनी रिपोर्ट कोर्ट में पेश करनी है।

फर्रुखाबाद के कायमगंज के रहने वाले हिंदू जागरण मंच के एक कार्यकर्ता प्रदीप सक्सेना ने मकबरे के जगह पर शिव मंदिर होने का दावा किया। इस संबंध में नोटिस देकर डीएम और परातत्व विभाग से मकबरे का सर्वे कराने की भी मांग की गई है। उन्होंने यह भी कहा कि इस जगह पर पहले मंदिर हुआ करता था, जिसे मुगलों ने तोड़कर मकबरे का निर्माण करवाया है।

Advertisement

इसके इतर हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ता ने फतेहगढ़ कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था और सिविल जज के सामने एक केस फाइल किया था। इसमें कार्यकर्ता के द्वारा यह मांग की गई है कि यहां पर हिंदू धर्म के लोगों को पूजा करने से नहीं रोका जाना चाहिए। कोर्ट ने अमीन से मकबरे का सर्वे करके रिपोर्ट पेश करने को कहा है।

हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ता का दावा

हिंदू जागरण मंच के कार्यकर्ता प्रदीप सक्सेना ने मामले पर बताते हुए कहा कि कायमगंज के मऊ रशीदाबाद में मकबरे की जगह पर पहले गंगेश्वर नाथ का मंदिर हुआ करता था। इसको मुगल शासकों ने तुड़वाकर नवाब रशीद मियां का मकबरा बनवा दिया गया और इस पर कब्जा कर लिया गया। उन्होंने आगे कहा कि कोर्ट ने इस मामले में अमीन से सर्वे कराया है। उन्होंने दावा करते हुए कहा कि मकबरे पर कुछ हिंदू निशान भी देखने को मिले हैं।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो