scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Chandigarh Mayor Election: कांग्रेस-आप गठबंधन की पहली परीक्षा आज, लोकसभा चुनाव से पहले क्यों अहम है चंडीगढ़ मेयर का चुनाव?

मेयर चुनाव से पहले चंडीगढ़ नगर निगम कार्यालय के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: shruti srivastava
चंडीगढ़ | Updated: January 18, 2024 11:39 IST
chandigarh mayor election  कांग्रेस आप गठबंधन की पहली परीक्षा आज  लोकसभा चुनाव से पहले क्यों अहम है चंडीगढ़ मेयर का चुनाव
चंडीगढ़ मेयर का चुनाव (Source- screengrab/ ANI)
Advertisement

चंडीगढ़ में आज मेयर का चुनाव होने जा रहा है। लोकसभा चुनाव से पहले हो रहा चंडीगढ़ मेयर का चुनाव कई मायनों में अहम है। खास बात यह है कि इस चुनाव में INDIA गठबंधन की बीजेपी से पहली चुनावी टक्कर है। मेयर चुनाव में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने आपस में हाथ मिलाकर बीजेपी को हराने की ठानी है। AAP उम्मीदवार कुलदीप कुमार का बीजेपी के मनोज सोनकर से मुकाबला है।

आज मेयर चुनाव से पहले चंडीगढ़ नगर निगम कार्यालय के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई। चंडीगढ़ की एसएसपी कंवरदीप कौर का कहना है, "मेयर चुनाव के मद्देनजर आज हमने अपने 600 पुलिसकर्मी तैनात किए हैं और आरएएफ के जवान तैनात हैं। हमने कानून व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए एहतियाती कदम उठाए हैं।" SSP ने कहा कि नगर निगम भवन में केवल वे ही लोग जा सकते हैं जो या तो मतदाता हैं, उम्मीदवार हैं या जिनके पास नागरिक प्रशासन द्वारा दिया गया पास है।

Advertisement

चंडीगढ़ मेयर चुनाव पर कांग्रेस नेता पवन कुमार बंसल ने कहा, "मुझे जानकारी मिली है कि बीजेपी ने मेयर चुनाव टालने की मंशा से पीठासीन अधिकारी को अस्पताल में भर्ती कराया है। उन्होंने पूरी तरह से अलोकतांत्रिक काम किया है।"

INDIA गठबंधन के जीत रूपी रथ की चंडीगढ़ से शुरूआत

वहीं, मेयर चुनाव को लेकर AAP के राज्यसभा सांसद राघव चड्ढा का कहना है कि I.N.D.I.A गठबंधन अपना पहला मैच खेलने जा रहा है। ये चुनाव देश की राजनीति की तकदीर, तस्वीर, दशा और दिशा को बदलने वाला है। उन्होंने कहा, "चंडीगढ़ मेयर का चुनाव का लोकसभा चुनाव की नींव रखने वाला है। INDIA गठबंधन के जीत रूपी रथ की चंडीगढ़ से शुरूआत होगी।" पंजाब में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के नेता किसी भी सूरत में लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन करने को राजी नहीं है अगर चंडीगढ़ में कांग्रेस-AAP गठबंधन जीत हासिल करता है तो पंजाब में भी दोनों पार्टियां गठबंधन को लेकर विचार कर सकती है।

2016 से चंडीगढ़ पर बीजेपी का रहा है कब्जा

चंडीगढ़ निगम में 8 साल से चुनाव जीतती आ रही भारतीय जनता पार्टी को मेयर की कुर्सी से हटाने के लिए आप और कांग्रेस ने गठबंधन किया है। कांग्रेस-AAP के गठबंधन के तहत मेयर पद के लिए AAP का उम्मीदवार है तो वहीं सीनियर डिप्टी मेयर और डिप्टी मेयर पद के कांग्रेस के प्रत्याशी मैदान में है।

Advertisement

वरिष्ठ कांग्रेस नेता पवन कुमार बंसल और आप नेता राघव चड्ढा ने मतदान की पूर्व संध्या पर स्थिति का जायजा लेने और अपनी संयुक्त रणनीतियों को अंतिम रूप देने के लिए चंडीगढ़ में मुलाकात की। चड्ढा ने पहले कहा था कि इंडिया गठबंधन चंडीगढ़ मेयर चुनाव में प्रचंड बहुमत हासिल करेगा और यह अप्रैल-मई में होने वाले लोकसभा चुनावों के लिए निर्णायक साबित होगा।

Advertisement

चंडीगढ़ नगर निगम में भाजपा के 14 पार्षद

मेयर चुनाव के नतीजों पर बारीकी से नजर रखी जाएगी क्योंकि यह संकेत दे सकता है कि आम चुनावों के लिए पंजाब और दिल्ली जैसे राज्यों में दोनों पार्टियों के बीच प्रस्तावित गठबंधन में चीजें कैसी हो सकती हैं। 35 सदस्यीय चंडीगढ़ नगर निगम में वर्तमान में भाजपा के 14 पार्षद हैं। इसमें एक पदेन सदस्य, सांसद किरण खेर भी हैं, जिनके पास मतदान का अधिकार है। आप के 13 और कांग्रेस के सात पार्षद हैं। सदन में शिरोमणि अकाली दल का एक पार्षद है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो