scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Sukhdev Singh Gogamedi Murder: 'हत्यारों के एनकाउंटर तक नहीं हटेंगे', सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी का ऐलान, FIR में अशोक गहलोत का भी जिक्र

दिन भर के हंगामे के बाद जयपुर के पुलिस कमीश्नर बीजू जॉर्ज के साथ राजपूत संगठनों की हुई बैठक में प्रदर्शन को खत्म दिए जाने की बात सामने आई थी लेकिन अब सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी ने सामने आकर इससे इनकार कर दिया है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Mohammad Qasim
Updated: December 06, 2023 21:55 IST
sukhdev singh gogamedi murder   हत्यारों के एनकाउंटर तक नहीं हटेंगे   सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी का ऐलान  fir में अशोक गहलोत का भी जिक्र
सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की पत्नी शीला शेखावत (फोटो : एएनआई)
Advertisement

राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या के बाद राजपूत संगठनों की ओर से किए गए राजस्थान बंद का असर कई जिलों में दिखाई दिया। उनकी पत्नी पत्नी शीला शेखावत ने ऐलान किया है कि कल भी राजस्थान बंद रहेगा। उन्होंने कहा, "मैं पूरे देश के राजपूतों से आह्वान करती हूं कि वे अधिक से अधिक संख्या में यहां आएं क्योंकि आज सुखदेव सिंह को निशाना बन गया है, कल हममें से कोई भी उनका निशाना बन सकता है।"

इससे पहले दिन भर के हंगामे के बाद जयपुर के पुलिस कमीश्नर बीजू जॉर्ज के साथ राजपूत संगठनों की हुई बैठक में प्रदर्शन को खत्म दिए जाने की बात सामने आई थी। बैठक में कई मांगों पर सहमति दर्ज कराई गई थी। इस मामले में जयपुर के श्याम नगर थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। केस आईपीसी की धारा 307, 397, 341, 34,3 और 25(6) के तहत दर्ज किया गया है, जांच SHO मनीष गुप्ता को सौंपी गई है। FIR में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का भी जिक्र किया गया है, जिसमें कहा गया है कि सुखदेव सिंह गोगामेड़ी ने बीते साल जान के खतरे को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सहित पुलिस महानिदेशक को आगाह किया था।

Advertisement

क्या मांगे रखी गई?

बसपा विधायक मनोज न्यांगली ने एएनआई से बात करते हुए कहा कि 7-8 मांगें थीं जिनमें सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को सुरक्षा प्रदान करने वाले अधिकारियों के खिलाफ जांच भी शामिल थी। मनोज न्यांगली ने कहा, "इस मामले की एनआईए जांच पर राज्यपाल से भी चर्चा की गई है, हम आम सहमति पर पहुंच गए हैं और शव का पोस्टमॉर्टम किया जाएगा, विरोध को खत्म करने पर भी चर्चा जारी है।"

सोशल मीडिया पर मौजूद सहमति पत्र के मुताबिक जिसपर पुलिस आयुक्त जयपुर और राजपूत नेताओं के हस्ताक्षर हैं। मांगे लिखी हैं कि-

  1. 1. आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाएगा। आपराधिक साजिश में शामिल लॉरेंस बिशनोई, रोहित गोदारा अन्य पर कार्यवाही पर भी जानकारी दी जाएगी।
  2. 2. मामले की जांच एनआईए द्वारा किए जाने की अनुशंसा की जाएगी।
  3. 3. मामले में पुलिस प्रशासन की लापरवाही पर सख्त कारवाई की जाएगी और लापरवाह अधिकारियों पर भी कार्यवाही की जाएगी।
  4. 4. मामले की जांच फास्ट ट्रेक कोर्ट से की जाएगी।
  5. 5. लापरवाही के संबंध में विभागीय जांच की जाएगी, इस जांच के दौरान थाना अधिकारी एवं बीट अधिकारियों का ट्रांसफर पुलिस लाइन में किया जाएगा।
  1. 6. सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के परिवार को आर्थिक सहायता और सरकारी नौकरी के संबंध में राज्य सरकार से अनुशंसा की जाएगी।
  2. 7. घायल अजित सिंह के परिवार को भी आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  3. 8. सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के परिवार को जयपुर और हनुमानगढ़ में पुलिस सुरक्षा प्रदान की जाएगी।
  4. 9. सुरक्षा से संबन्धित आवेदन 10 दिन में स्वीकार किया जाएगा।
  5. 10. जिस गैंग का नाम सुखदेव सिंह गोगामेड़ी की हत्या में सामने आया है, उसके निशाने पर कुछ और भी राजपूत नेता हैं, इस मामले की जांच की जाएगी।
Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो