scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'NEET परीक्षा नहीं होगी क्लियर', कोटा से एक और छात्र लापता, एक सप्ताह के अंदर ही दूसरा मामला

Kota NEET missing student: कोटा में नीट की तैयारी करने वाला छात्र लापता हो गया है। इसके ठीक एक सप्ताह पहले एक और छात्र लापता हुआ था।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: May 14, 2024 10:17 IST
 neet परीक्षा नहीं होगी क्लियर   कोटा से एक और छात्र लापता  एक सप्ताह के अंदर ही दूसरा मामला
Kota Student: एक सप्ताह के अंदर ही दूसरे छात्र के लापता होने का मामला सामने आया है।
Advertisement

कोटा से लगभग हर रोज परेशान कर देने वाली खबर आती है। अभी तक छात्रों के सुसाइड करने का मामला भयावह था ही कि अब छात्रों के लापता होने का मामला भी आना शुरू हो गया है। कोटा से छात्रों के लापता होने का एक सप्ताह में ही ये दूसरा मामला है। जहां NEET की तैयारी करने वाला 19 वर्षीय छात्र अमन कुमार सिंह लापता हो गया है।

अमन पिछले दो साल से राजस्थान के कोटा में रहकर मेडिकल प्रवेश परीक्षा (NEET) की तैयारी कर रहा था। अमन कोटा के स्वर्ण विहार कॉलोनी में रहकर तैयारी करता था। बीते 5 मई को NEET की परीक्षा आयोजित की गई है। जिसके बात 12 मई की रात को वह अपने कमरे से लापता हो गया। उसने कमरा छोड़ने से पहले अपना नोट्स भी लिखा, 'मेरी NEET की परीक्षा अच्छी नहीं हुई। मुझे कोटा बैराज के आसपास ढूंढ लेना।'

Advertisement

छोटे भाई को मिली महत्वपूर्ण जानकारी

अमन के पेपर नोट्स से मिली जानकारी के अनुसार कोटा पुलिस ने कोटा बैराज के आसपास खोजबीन किया लेकिन अभी तक कोई सफलता नहीं मिली है। अमन का छोटा भाई पिछले महीने ही उसके साथ तैयारी के लिए कोटा गया था। 12 मई की रात में जब अमन कमरे में नहीं मिला तो उसने इस बात की जानकारी अपने मकान मालिक को दी। मकान मालिक ने तुंरत कोटा पुलिस को सूचित किया। परिवार वालों को जैसे ही इस बात की जानकारी चली अमन के माता-पिता जल्दी ही कोटा पहुंच जाएंगे। इस मामले में पुलिस ने गुमशुदगी का मामला दर्ज किया है।

पिछले सप्ताह 6 मई को एक और छात्र हुआ था गायब

Advertisement

पिछले सप्ताह 6 मई को NEET की ही तैयारी कर रहा 19 वर्षीय छात्र एक नोट्स छोड़कर लापता हो गया था। राजस्थान के गंगानगर जिले के रहने वाला छात्र राजेंद्र मीना अपने पीजी कमरे लापता हो गया। उसने माता-पिता को एक मैसेज के जरिए इस बात की जानकारी साझा की थी कि वो आगे अब पढ़ाई नहीं करना चाहता। वो पिछले पांच साल से कोटा में रहकर मेडिकल परीक्षा की तैयारी कर रहा था। मीना ने अपने नोट्स में लिखा कि उसके पास 8000 रुपये हैं। अगर उसे और रुपये भी पैसे की जरूरत होगी तो वह अपने परिवार के लोगों से समपर्क करेगा।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो