scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

उत्तर प्रदेश सरकार ने बदली खेल नीति, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले- खेल प्रतिभाओं को मिलेंगे आगे बढ़ने के मौके

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में दो दिवसीय राज्य स्तरीय कुश्ती प्रतियोगिता के समापन समारोह में कहा कि सरकार ने खेलों में युवाओं की रुचि बढ़ाने के लिए कई कदम उठाए हैं।
Written by: Alok Srivastava | Edited By: ALOK SRIVASTAVA
Updated: August 22, 2023 12:06 IST
उत्तर प्रदेश सरकार ने बदली खेल नीति  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले  खेल प्रतिभाओं को मिलेंगे आगे बढ़ने के मौके
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Express Photo: Vishal Srivastav)
Advertisement

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 21 अगस्त 2023 को नागपंचमी के मौके पर गोरखपुर में कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार खेलों को बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार खेल अकादमियां खोलने में निजी क्षेत्र की सहायता करेगी। सरकार ने सूबे की खेल नीति में भी बदलाव किए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर परिसर में आयोजित दो दिवसीय कुश्ती प्रतियोगिता के समापन समारोह को संबोधित करते यह जानकारी दी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि खेल गतिविधियों को बढ़ाने के लिए अब तक निजी क्षेत्र की खेल अकादमियों को सरकारी मदद नहीं मिलती थी। इसके लिए प्रदेश सरकार ने नीति में बदलाव करते हुए उन्हें मदद देने की व्यवस्था बनाई है। यह व्यवस्था इसलिए की गई है, क्योंकि कई खिलाड़ी निजी अकादमियों से प्रशिक्षण हासिल कर आगे बढ़े हैं और प्रदेश और देश का नाम रोशन किया है।

Advertisement

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, निजी अकादमियों को सरकार का सहयोग मिलने से खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ने के और अवसर मिलेंगे। वर्ष 2014 के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में खेलो इंडिया अभियान, सांसद खेल स्पर्धा और फिट इंडिया मूवमेंट से गांव-गांव खेल और खिलाड़ियों को जो प्रोत्साहन मिला है।

उन्होंने कहा, इसका नतीजा यह है कि आज हमारे खिलाड़ी अंतरराष्ट्रीय फलक पर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रहे हैं। देश में नौ वर्षों से खिलाड़ियों को व्यापक मंच मिला है। उत्तर प्रदेश में खेल के प्रति रुचि और खेल की गतिविधियों को बढ़ाने के लिए सरकार ने कई कदम उठाए हैं। इसके तहत हर गांव में खेल के मैदान व ओपन जिम विकसित किए जा रहे हैं। जिला स्तर पर स्टेडियम व ब्लॉक स्तर पर मिनी स्टेडियम बनाए जा रहे हैं।

उत्तर प्रदेश में बनाए गए हैं 2 अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि वर्तमान में उत्तर प्रदेश में दो अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम, 77 स्टेडियम, 68 बहुउद्देश्यीय स्पोर्ट्स हाल, 39 तरणताल, 14 सिंथेटिक हॉकी मैदान, 36 जिम, 3 सिंथेटिक रनिंग ट्रैक, 19 डोरमेट्री, 16 बास्केटबॉल स्टेडियम, 11 कुश्ती हाल, 11 वेटलिफ्टिंग हाल बनाए जा चुके हैं। तीन स्पोर्ट्स कॉलेज व 44 क्रीड़ा छात्रवासों के जरिये कई प्रकार के खेलों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। मेरठ में मेजर ध्यानचंद के नाम पर प्रदेश के पहले और विश्व स्तरीय स्पोर्ट्स विश्वविद्यालय का निर्माण हो रहा है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो