scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

दिल्ली फुटबॉल लीग में मैच फिक्सिंग? खिलाड़ी ने अपने ही नेट में दाग दिए 2 गोल; देखें Video

दिल्ली फुटबॉल लीग के अहबाब एफसी और रेंजर्स एफसी के बीच खेले गए मैच में खिलाड़ी ने अपने ही नेट में दो गोल दाग दिए। गोलकीपर ने भी बॉल को पकड़ने का प्रयास नहीं किया।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: kapiltiwari
Updated: February 20, 2024 16:45 IST
दिल्ली फुटबॉल लीग में मैच फिक्सिंग  खिलाड़ी ने अपने ही नेट में दाग दिए 2 गोल  देखें video
दिल्ली फुटबॉल लीग के एक मैच का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। फोटो सोर्स- ट्विटर।
Advertisement

दिल्ली फुटबॉल लीग पर मैच फिक्सिंग का साया मंडरा रहा है। दरअसल, एक मैच को लेकर इस लीग पर फिक्सिंग के आरोप लगने लगे हैं। सोमवार को अहबाब एफसी और रेंजर्स एफसी के बीच खेले गए मैच में खिलाड़ी ने अपने ही नेट में दो गोल दाग दिए। हैरानी वाली बात यह है कि गोलकीपर ने भी बॉल को पकड़ने का प्रयास नहीं किया और गोल होने दिया। इस अजीब सी घटना ने दुनियाभर के फुटबॉल प्रेमियों को हैरान कर दिया है।

वायरल हुआ वीडियो

इस मैच का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में देखा जा सकता है कि रेंजर्स एफसी के खिलाड़ियों ने अपने ही नेट में दो गोल कर दिए। अहबाब एफसी के खिलाफ रेंजर्स एफसी इस मैच में 4-0 से आगे थी, लेकिन अचानक चौंकाने वाले इन दो गोल के बाद रेंजर्स एफसी ने मैच 4-2 से अपने नाम किया। खिलाड़ियों के द्वारा अपने ही नेट में गोल दागने की इस घटना के बाद दिल्ली फुटबॉल लीग के इस मैच पर फिक्सिंग के आरोप लगने लगे हैं।

Advertisement

फिक्सिंग का मामला पकड़ गया तूल

इस घटना से फिक्सिंग का मामला तूल पकड़ गया है। वीडियो में देखा जा सकता है कि मैच के 86वें मिनट में अहबाब एफसी के खिलाड़ियों को बिना किसी दबाव या रेंजर्स के ही खिलाड़ियों को गेंद पास करते हुए देखा जा सकता है। खिलाड़ियों ने अजीब तरीके से गेंद को अपने गोलकीपर को पास करना शुरू कर दिया और देखते ही देखते रेंजर्स एफसी ने अपने ही नेट में दो गोल कर दिए।

रंजीत बजाज ने उठाई जांच की मांग

इस मामले को लेकर भारतीय फुटबॉल क्लब मिनर्वा पंजाब और दिल्ली एफसी के मालिक रंजीत बजाज ने तत्काल फिक्सिंग के आरोपों की जांच करने की मांग उठाई है। उन्होंने एक ट्वीट कर कहा है कि मैं गारंटी दे सकता हूं कि दिल्ली फुटबॉल सीनियर प्रीमियर डिवीजन में बड़े स्तर पर फिक्सिंग हो रही है। यही कारण है कि हम तब तक इस क्लब से दूरी बनाएंगे जब तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं होती है। मैं इस मामले को बार-बार उठा रहा हूं। देश में सबसे भ्रष्ट लीग - आई-लीग भी इससे पीछे नहीं है। रेफरी, टीम के मालिक भी इसमें शामिल हैं।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो