scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

ज्योति याराजी ने खुद का रिकॉर्ड तोड़ा और हर्डल रेस में भारत के लिए जीता गोल्ड मेडल, रच दिया इतिहास

ज्योति याराजी ने एशियाई इंडोर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भारत के लिए हर्डल रेस में गोल्ड मेडल जीता।
Written by: खेल डेस्‍क
Updated: February 17, 2024 21:18 IST
ज्योति याराजी ने खुद का रिकॉर्ड तोड़ा और हर्डल रेस में भारत के लिए जीता गोल्ड मेडल  रच दिया इतिहास
Jyothi Yarraji (Photo- Twitter)
Advertisement

Jyothi Yarraji: तेहरान में आयोजित एशियाई इंडोर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में महिलाओं की 60 मीटर हर्डल रेस में भारत की ज्योति याराजी ने खुद का नेशनल रिकॉर्ड तोड़कर गोल्ड मेडल जीता और भारत का नाम रोशन किया। ज्योति से पहले यहां दो बार की एशियाई खेलों की रजत पदक विजेता हरमिलन बैंस ने 4:29.55 में महिलाओं की 1500 मीटर स्पर्धा पूरी कर भारत के लिए पहला गोल्ड मेडल हासिल किया था। वहीं दूसरी तरफ ज्योति ने फाइनल में 8.12 सेकेंड के साथ अपना खुद का ही नेशनल रिकॉर्ड तोड़ा और इस खेल में भारत के लिए ओवरऑल दूसरी गोल्ड मेडल जीता।

पहले स्थान पर रहीं ज्योति

इस प्रतियोगिता में ज्योति का दबदबा साफ तौर पर दिखा क्योंकि वह जापान की असुका टेराडा से आगे रहीं, जिन्होंने 8.21 सेकेंड का समय निकाला तो वहीं हांगकांग की लुई लाई यिउ ने 8.26 सेकेंड के साथ तीसरा स्थान हासिल किया। ज्योति याराजी 100 मीटर हर्डल्स में मौजूदा एशियाई आउटडोर चैंपियन हैं। उन्होंने पिछले साल बैंकॉक में खिताब जीतने के बाद एक बार फिर अपने असाधारण कौशल का प्रदर्शन किया। शुरुआती अयोग्यता का सामना करने के बावजूद, वह हांग्जो एशियाई खेलों से 100 मीटर हर्डल्स में रजत पदक के साथ वापस लौंटी थी।

Advertisement

आपको बता दें कि ज्योति याराजी ने सौ मीटर बाधा दौड़ में पिछले साल इसी प्रतियोगिता में 8:13 सेकेंड का अपना सर्वश्रेष्ठ समय निकाला था और वह तब उपविजेता रही थीं। इससे पहले 24 साल की इस एथलीट ने 8:22 सेकेंड के समय के साथ अपनी हीट में शीर्ष स्थान के साथ फाइनल के लिए क्वालीफाई किया था।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो