scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

India vs Canada: भारतीय शतरंज खिलाड़ियों को नहीं मिला कनाडा का वीजा, FIDE को देना पड़ा दखल

भारत के पांच खिलाड़ियों को चेज कैंडिडेट टूर्नामेंट में हिस्सा लेने कनाडा जाना है।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Riya Kasana
नई दिल्ली | Updated: March 12, 2024 11:12 IST
india vs canada  भारतीय शतरंज खिलाड़ियों को नहीं मिला कनाडा का वीजा  fide को देना पड़ा दखल
भारतीय शतरंज खिलाड़ी।
Advertisement

इस साल प्रतिष्ठित कैंडिडेट्स प्रतियोगिता की मेजबानी कनाडा को दी गई हैं। भारत के पांच खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले हैं भारत से आर प्रज्ञाननंदा, विदित गुजराती और डी गुकेश ने इस प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई किया है जिसमें आठ खिलाड़ी डबल राउंड रोबिन आधार पर एक दूसरे का सामना करेंगे। इन खिलाड़ियों ने महीनों पहले वीजा के लिए अप्लाई किया था लेकन अब तक उन्हें इस बारे में कोई अपडेट नहीं दिया गया है।

कनाडा करेगा मेजबानी

कनाडा तीन से 22 अप्रैल तक टोरंटो में होने वाले इस प्रतिष्ठित शतरंज टूर्नामेंट की मेजबानी करेगा। भारत और कनाडा के बीच काफी समय से राजनीतिक तनाव चल रहा है। खालिस्तानी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बाद भारत और कनाडा के बीच विवाद शुरू हुआ था। इसका असर दोनों के वीजा प्रोसेस पर भी पड़ा। भारत ने कुछ समय के लिए कनाडा के लोगों के लिए वीजा देना बंद थी लेकिन कुछ समय बाद यह सर्विस फिर शुरू कर दिया गया।

Advertisement

फिडे ने की कार्रवाई की अपील

खिलाड़ियों को वीजा जारी करने में देरी पर चिंता जताते हुए अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ फिडे ने आवेदनों पर तत्काल कार्रवाई करने की अपील की। महिलाओं की प्रतियोगिता के लिए भारत से आर वैशाली और कोनेरू हंपी ने क्वालीफाई किया है। ओपन और महिला वर्ग दोनों प्रतियोगिता एक साथ खेली जाएगी।

ट्वीट करके जाहिर की निराशा

फिडे ने इस मुद्दे पर कनाडा की सरकार का ध्यान आकर्षित करते हुए एक्स पर लिखा,‘‘यह खेदजनक है कि कुछ महीने पहले वीजा के लिए आवेदन करने वाले दुनिया भर के कई देशों के खिलाड़ियों को अभी तक इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।’’ उन्होंने आगे लिखा,, ‘‘फिडे कैंडिडेट्स टूर्नामेंट के आयोजन में अब केवल एक महीने का समय बचा है और खिलाड़ियों के समय पर टोरंटो पहुंचने को लेकर गहरी चिंता है।’’

भारत के पांच बार के विश्व चैंपियन और फिडे के उपाध्यक्ष विश्वनाथन आनंद ने कनाडा के प्रधान मंत्री जस्टिन ट्रूडो तथा आव्रजन, शरणार्थी और नागरिकता कनाडा विभाग को टैग करते हुए फिडे के पत्र को रिट्वीट किया है। अखिल भारतीय शतरंज महासंघ (एआईसीएफ) के एक अधिकारी ने पीटीआई को बताया कि अभी तक किसी भी भारतीय को वीजा नहीं मिला है।

Advertisement

अधिकारी ने कहा,,‘‘नहीं अभी तक किसी भी खिलाड़ी को वीजा नहीं मिला है। उन्होंने इसके लिए समय पर आवेदन कर दिया था और उम्मीद है कि यह जल्द हो जाएगा। यह इतना बड़ा मुद्दा नहीं है।’’

Advertisement

भाषा इनपुट के साथ

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो