scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

रात को महिला हॉस्टल में जाते हुए पकड़ा गया CWG गोल्ड मेडलिस्ट, वेटलिफ्टर को नेशनल कैंप से किया गया बाहर

कॉमनवेल्थ गोल्ड मेडलिस्ट अचिंत शिउली को नेशनल कैंप से बाहर कर दिया गया जिससे उनकी ओलंपिक खेलने की उम्मीद भी खत्म हो गई है।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Riya Kasana
नई दिल्ली | Updated: March 16, 2024 20:05 IST
रात को महिला हॉस्टल में जाते हुए पकड़ा गया cwg गोल्ड मेडलिस्ट  वेटलिफ्टर को नेशनल कैंप से किया गया बाहर
अचिंता शिउली को किया गया कैंप से बाहर
Advertisement

राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता भारोत्तोलक अचिंता शिउली को एनआईएस पटियाला में रात में महिला हॉस्टल में प्रवेश करते पकड़ा गया जिसके बाद उन्हें पेरिस ओलंपिक की तैयारी के लिये लगाये गए शिविर से बाहर कर दिया गया है। यह घटना बृहस्पतिवार रात की है। पुरुषों के 73 किलो वर्ग में उतरने वाले 22 वर्ष के अचिंता को सुरक्षाकर्मियों ने पकड़ा और उनका वीडियो भी बनाया।

अचिंता को शिविर से किया गया बाहर

भारतीय वेटलिफ्टिंग फेडरेशन के एक अधिकारी ने कहा ,‘‘इस तरह की अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जायेगी। अचिंता को तुरंत शिविर से जाने के लिये कहा गया।’’ भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) और एनआईएस पटियाला के कार्यकारी निदेशक विनीत कुमार को तुरंत इसकी जानकारी दी गई । इसका वीडियो साक्ष्य मौजूद होने से साई ने जांच पैनल का गठन नहीं किया।

Advertisement

साई मुख्यालय को भेजा गया वीडियो

साई के एक सूत्र ने कहा ,‘‘वीडियो एनआईएस पटियाला के कार्यकारी निदेशक विनीत कुमार और दिल्ली में साई मुख्यालय को भेज दिया गया है। भारोत्तोलन महासंघ को अचिंता को शिविर से हटाने के लिये कहा गया है।’’ अचिंता ने बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेल 2022 में नये रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता था। पटियाला में लड़के और लड़कियों के लिये अलग हॉस्टल है। इस समय महिला मुक्केबाज, एथलीट और पहलवान एनआईएस पटियाला में है।

पेरिस ओलंपिक से बाहर हुए अचिंता

वेटलिफ्टिंग फेडरेशन ने इससे पहले राष्ट्रमंडल और युवा ओलंपिक चैंपियन जेरेमी लालरिनुगा को भी अनुशासनहीनता के कारण राष्ट्रीय शिविर से हटाया था। इसके साथ ही अचिंता की ओलंपिक के लिये क्वालिफाई करने की उम्मीदें भी खत्म हो गई क्योंकि वह इस महीने थाईलैंड के फुकेट में आईडब्ल्यूएफ विश्व कप नहीं खेल सकेंगे जो पेरिस ओलंपिक क्वालिफिकेशन के लिये अनिवार्य था।

वह फिलहाल ओलंपिक क्वालिफिकेशन दौड़ में 27वें स्थान पर है और उपमहाद्वीपीय कोटे के जरिये पेरिस ओलंपिक जा सकते थे। अभी तक टोक्यो ओलंपिक की रजत पदक विजेता मीराबाई चानू (49 किलो) और राष्ट्रमंडल खेल रजत पदक विजेता बिंदियारानी देवी पेरिस ओलंपिक की दौड़ में है। दोनों फुकेट में टूर्नामेंट खेलेंगी।

Advertisement

भाषा इनपुट के साथ

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो