scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Badminton Asia Team Championships Final: भारत की बेटियों ने रचा इतिहास, थाईलैंड को हराकर पहली बार जीता खिताब

भारत पहली बार एशियन चैंपियनशिप जीतने में कामयाब हुआ है। इससे पहले देश की महिला या पुरुष, कोई भी टीम यह खिताब नहीं जीत पाई थी।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Riya Kasana
नई दिल्ली | Updated: February 18, 2024 14:29 IST
badminton asia team championships final  भारत की बेटियों ने रचा इतिहास  थाईलैंड को हराकर पहली बार जीता खिताब
17 साल की अनमोल खरब ने जिताया निर्णायक मुकाबला
Advertisement

भारतीय महिला टीम ने पहली बार एशियन चैंपियनशिप जीतकर इतिहास रच दिया। यह पहला मौका है भारत की कोई टीम यह खिताब जीतने में कामयाब रही है। पहली बार फाइनल में पहुंची भारतीय महिला टीम ने खिताबी मुकाबले में थाईलैंड को 3-1 से मात दी। भारत ने इससे पहले इस प्रतियोगिता में दो पदक जीते थे। भारतीय पुरुष टीम ने 2016 और 2020 में कांस्य पदक हासिल किए थे।

भारत ने पहले दो मुकाबले जीतकर दमदार शुरुआत की लेकिन इसके बाद थाईलैंड ने 2-2 से स्कोर बराबर कर दिया। निर्णायक मुकाबले में 17 साल की अनमोल खरब ने खुद से ऊंची रैंक वाली खिलाड़ी को हराकर जीत तय की।

Advertisement

भारत ने की थी दमदार शुरुआत

स्टार खिलाड़ी पीवी सिंधु ने भारतीय महिला टीम को बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप के फाइनल में थाईलैंड के खिलाफ शानदार शुरुआत दिलाई। पहले एकल मुकाबले में सिंधु ने विश्व की 17वीं रैंकिंग वाली खिलाड़ी सुपानिदा कटेथोंग को 21-12, 21-12 से हरा दिया। इसके बाद गायत्री गोपीचंद और त्रिसा जॉली की टीम डबल्स मुकाबला खेलने उतरी।

उनका सामना थाईलैंड की किटिठारकुल और प्रासजोंगजई से था। इस जोड़ी के खिलाफ उनका रिकॉर्ड 1-4 था। इसके बाजवूद इस जोड़ी ने रोमांचक मुकाबला 21-16 18-21 21-16 से अपने नाम किया। भारत की लीड अब तक 2-0 हो चुकी थी और उन्हें केवल एक और जीत की जरूरत थी।

थाईलैंड की जबरदस्त वापसी

इस जीत के लिए टीम को आखिरी मैच तक का इंतजार करना पड़ा। दूसरे सिंगल्स मुकाबले में बुसानान ओंनबमरुंगफान ने भारत की अस्मिता चालिहा को 21-11,21-14 से महज 35 मिनट में मात दी। वहीं प्रियंका और श्रुति को थाईलैंड की ऐमसार्ड बहनों के खिलाफ 11-21,9-21 से हार का सामना करना पड़ा।

Advertisement

अनमोल खरब ने जीता निर्णायक मुकाबला

इसके बाद एक बार फिर टीम को जीत दिलाने की जिम्मेदारी अनमोल खरब के हिस्से आई। खरब वर्ल्ड रैंकिंग 427वें स्थान पर हैं। उन्होंने 45वें नंबर पर पॉर्नपिचा चोइकवोंग को 21-14,21-9 से मात दी। इसके साथ ही भारत ने 3-2 से यह खिताबी मुकाबला अपने नाम किया। यह तीसरा मौका था जब अनमोल ने निर्णायक मुकाबले में जीत हासिल की।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो