scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

qatest-Psoriasis:अगर आप भी हैं सोरायसिस से परेशान तो इन चीजों से बना लें दूरी , जानिए

सोरायसिस होने पर बॉडी में पपड़ी व चकते बनने लगते हैं। जो आमतौर पर घुटनों, कोहनी व सिर में नजर आते हैं।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन | Edited By: Eshu Chaudhary
नई दिल्ली | Updated: May 10, 2024 13:34 IST
qatest psoriasis अगर आप भी हैं सोरायसिस से परेशान तो इन चीजों से बना लें दूरी   जानिए
शहद के एंटी बैक्टीरियल और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण सोरायसिस और एक्जिमा जैसी स्थितियों के उपचार में बहुत लाभकारी माने जाते हैं।
Advertisement

सोरायसिस एक प्रकार का त्वचा संबंधी रोग है। हेल्थ एक्सपर्ट्स के अनुसार यह बीमारी इम्यून सिस्टम के सही से काम न करने के कारण होती है। इम्यून सिस्टम के अलावा भी इस रोग के होने के कई कारण माने जाते हैं। जिसमें शरीर में विटामिन डी की कमी होने पर, त्वचा का धूप में झुलसने से,हाई ब्लड प्रेशर व तनाव के कारण भी सोरायसिस की समस्या होने लगती है।

बता दें कि सोरायसिस के कारण कई लोगों की त्वचा पर सुजन, जलन व लालिमा की समस्या होने लगती हैं। वहीं दूसरी ओर सोरायसिस से पीड़ित लोगों को अपनी सेहत का खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। क्योंकि जरा सी लापरवाही के कारण यह समस्या बढने लगती है। आज हम आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताएंगे जिनसे सभी सोरायसिस मरीजों को दूरी बनाए रखनी चाहिए।

Advertisement

सोरायसिस होने पर ये लक्षण आने लगते हैं नजर
(Symptoms of psoriasis)

त्वचा में जलन महसूस होना ।

त्वचा की रंगत में बदलाव आना।

Advertisement

त्वचा पर पपड़ी जम जाना ।

Advertisement

शरीर में खुजली होना ।

सिर में पपड़ी जमना व बालों का कमजोर होना ।

शरीर पर लाल रंग के चकते होना।

इन चीजों से बनाएं रखें दूरी
( Psoriasis people should avoid such things)

ज्यादा तेज धूप में बैठने से : त्वचा रोग विशेषज्ञों के अनुसार जिन लोगों को सोरायसिस की समस्या होती है, उन्हें अधिक तेज धूप में बैठने से बचना चाहिए। क्योंकि तेज धूप होने के कारण सनबर्न की समस्या होने लगती है। जिससे त्वचा में जलन व लालिमा की समस्या अधिक बढ़ सकती है।

तनाव लेने से : शिकागो में त्वचा विशेषज्ञ वेस्ना पेट्रोनिक-रोसिक के अनुसार अधिक तनाव लेने से सोरायसिस की समस्या बढने लगती है और कई बार तनाव लेने से यह एक गंभीर बीमारी का रूप भी ले लेती है। वहीं दूसरी ओर जो लोग तनाव कम लेते हैं उनमें सोरायसिस की समस्या ठीक या कम होने का अधिक चांस होते हैं।

ड्राई मौसम में बाहर जाने से : सोरायसिस के मरीजों को ड्राई मौसम व ज्यादा सर्दी के समय बाहर निकलने से बचना चाहिए।
क्योंकि ऐसे मौसम में बाहर निकलन से त्वचा में अधिक पपड़ी बनने लगती हैं। कई बार ऐसे मौसम के कारण पपड़ियों से खून भी निकलने लगता है और उनमें दर्द भी महसूस होता है।

धूम्रपान व शराब के सेवन से : सोरायसिस से पीड़ित लोगों को अपने सेहत के साथ अपने खानपान का भी खास ख्याल रखना चाहिए। ऐसे लोगों को इस बीमारी को कम करने के लिए धूम्रपान व शराब के सेवन से परहेज करना चाहिए। क्योंकि सोरायसिस को बढ़ाने के लिए ये दोनों भी जिम्मेदार माने जाते हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो