scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

हरियाणा में तोड़ी गई जीसस की मूर्ति, उधर असम में बजरंग दल के लोगों ने क्रिसमस मना रहे लोगों को खदेड़ा

अंबाला में एक चर्च में ईसा मसीह की मूर्ति को तोड़ दिया गया। पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है लेकिन अभी तक ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने वालों की पहचान नहीं हो सकी है।
Written by: kamalkumar | Edited By: कमल तिवारी
Updated: December 26, 2021 19:46 IST
हरियाणा में तोड़ी गई जीसस की मूर्ति  उधर असम में बजरंग दल के लोगों ने क्रिसमस मना रहे लोगों को खदेड़ा
अंबाला में तोड़ी गई ईसा मसीह की मूर्ति (सोर्स- सोशल मीडिया)
Advertisement

हरियाणा के अंबाला में रविवार को दोपहर में एक चर्च में ईसा मसीह की मूर्ति को तोड़ दिया गया। पुलिस सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है लेकिन अभी तक ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने वालों की पहचान नहीं हो सकी है। एक अन्य घटना में, असम के सिलचर में 25 दिसंबर को बजरंग दल के कुछ लोगों ने चर्च में घुस कर क्रिसमस के आयोजन में खलल डाला।

हरियाणा के अंबाला में ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त करने के मामले पर सदर पुलिस स्टेशन के एसएचओ नरेश ने बताया, ''दोपहर करीब 12:30 बजे दो लोग चारदीवारी से छलांग लगाकर आए और ईसा मसीह की मूर्ति को क्षतिग्रस्त कर दिया। उनकी अभी तक पहचान नहीं हो पाई है, इसकी जांच के लिए पुलिस टीमों को लगाया गया है। इस मामले में शिकायत दर्ज की जा रही है और उसके अनुसार पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।''

Advertisement

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, असम के सिलचर में स्थानीय लोग एक चर्च में इकट्ठा होकर क्रिसमस का त्योहार मना रहे थे, तभी वहां खुद को बजरंग दल का कार्यकर्ता बताने वाले लोग जबरन घुस आए और उन्होंने क्रिसमस मना रहे हिंदुओं से इस आयोजन में शामिल न होने को कहा। उन लोगों का कहना था कि उन्हें ईसाइयों के क्रिसमस मनाने से कोई दिक्कत नहीं है लेकिन वे हिंदुओं को ईसाइयों के इस त्योहार को नहीं मनाने देंगे क्योंकि 25 दिसंबर के दिन ही 'तुलसी दिवस' भी है।

इस घटना का एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वीडियो में उन लोगों में से एक का कहना है, ''हम क्रिसमस समारोह में भाग लेने वाले हिंदू लड़के और लड़कियों के खिलाफ हैं। आज हिंदुओं का तुलसी दिवस था, लेकिन किसी ने नहीं मनाया। इससे हमारी भावनाएं आहत होती हैं। हर कोई 'मेरी क्रिसमस' कह रहा है। हमारा धर्म कैसे बचेगा?''

Advertisement

स्थानीय पुलिस ने बताया कि इस मामले में उन्हें अभी तक ना ही कोई शिकायत मिली है और ना की कोई मामला दर्ज किया गया है। पुलिस के मुताबिक, ये एक छोटी सी झड़प है, इसलिए उन्होंने स्वत: संज्ञान लेकर कोई मामला दर्ज नहीं किया है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो