scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Mohan Manjhi Chief Minister of Odisha: सरपंच, विधायक और अब CM, चौकीदार के बेटे मोहन मांझी होंगे ओडिशा के 15वें मुख्यमंत्री

Who is Mohan Manjhi: मोहन मांझी ओडिशा के अगले सीएम होंगे। वह बुधवार को शपथ लेंगे।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Yashveer Singh
Updated: June 11, 2024 20:23 IST
mohan manjhi chief minister of odisha  सरपंच  विधायक और अब cm  चौकीदार के बेटे मोहन मांझी होंगे ओडिशा के 15वें मुख्यमंत्री
Odisha Chief Minister: मोहन चरण मांझी होंगे ओडिशा के अगले सीएम (X/mohanmajhi_BJP)
Advertisement

Odhisha Chief Minister Name: ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी के विधायकों ने मोहन मांझी को विधायक दल का नेता चुन लिया है। मोहन मांझी बुधवार को सीएम पद की शपथ लेंगे। उनके साथ केवी सिंह देव और प्रवती परिदा भी शपथ लेंगे। ये दोनों राज्य के डिप्टी सीएम होंगे।

ओडिशा में कल पहली बार बीजेपी सरकार बनाने जा रही है। मोहन चरण मांझी ओडिशा की Keonjhar विधानसभा सीट से विधायक चुने गए हैं। उन्होंने इस सीट पर बीजू जनता दल की मीना मांझी को हराया। मोहन चरण मांझी को 87,815 वोट मिले जबकि मीना मांझी को 76,238 वोट हासिल हुए और मोहन मांझी ने 11,577 वोटों से जीत दर्ज की।

Advertisement

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, मोहन चरण मांझी चार बार के विधायक हैं। वह आदिवासी समुदाय से आते हैं। भारतीय जनता पार्टी के सीनियर नेता और देश के डिफेंस मंत्री राजनाथ सिंह और पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव की मौजूदगी में मोहन चरण मांझी को विधायक दल का नेता चुना गया। मोहन चरण मांझी की सरकार में केवी सिंह देव और प्रवती परिदा उप मुख्यमंत्री होंगे।

कौन हैं प्रवती परिदा? दो चुनाव हारने के बाद तीसरे में मिली सफलता, बीजेपी ने बनाया डिप्टी सीएम

PTI की रिपोर्ट के अनुसार, चौकीदार के बेटे मोहन चरण मांझी ने करीब तीन दशक पहले गांव के सरपंच के रूप में अपना सियासी करियर शुरू किया था। 52 साल के मोहन चरण मांझी आदिवासी बहुल्य रायकला गांव से आते हैं। यह गांव खनिज से भरपूर क्योंझर जिले का हिस्सा है।

Advertisement

मोहन चरण मांझी ने साल 1997 से 2000 के बीच गांव के सरपंच रहे। उसके बाद वह बीजेपी आदिवासी मोर्चा के सेक्रेटरी बने। साल 2000 में वह पहली बार क्योंझर के विधायक चुने गए। इसके बाद वह साल 2004, 2019 और इस बार 2024 में इसी सीट से विधायक का चुनाव जीते। मुख्यमंत्री चुने जाने के बाद मोहन चरण मांझी ने कहा कि भगवान जगन्नाथ के आशीर्वाद से उडिशा में बीजेपी को बहुमत मिला है औऱ अब राज्य में सरकार बनने वाली है। उन्होंने कहा कि बीजेपी उडिशा के लोगों के विश्वास पर खरा उतरने की पूरी कोशिश करेगी।

Advertisement

मोहन चरण मांजी साल 2000 में पहली बार क्योंझर विधानसभा के विधायक चुने गए थे। इसके बाद उन्हें इस सीट पर साल 2004 में भी जीत हासिल हुई। साल 2000 में हुए विधानसभा चुनाव में उन्होंने 22,163 वोटों से कांग्रेस पार्टी के जगदीश नाइक को चुनाव में हराया जबकि साल 2004 में उन्होंने कांग्रेस के मदहब सरदार को करीब ग्यारह हजार वोटों से मात दी। इसके बाद उन्हें साल 2009 और साल 2014 में हुए विधानसभा में लगातार दो बार हार का सामना करना पड़ा। इन चुनावों में उन्हें  बीजद के प्रत्याशियों क्रमश: सुबर्णा नाइक और अभिराम नाइक ने मात दी।

ओडिशा में पहली बार बनेगी बीजेपी की सरकार

आपको बता दें कि ओडिशा में बीजेपी ने पहली बार अपने दम पर विधानसभा का चुनाव जीता है। बीजेपी ने हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव में राज्य की 147 सीटों में से 78 पर जीत दर्ज की थी। बुधवार को भुवनेश्वर के जनता मैदान में होने वाले शपथ कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी सहित बीजेपी के कई मुख्यमंत्रियों और सीनियर नेताओं के शामिल होने की उम्मीद है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो