scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Sig Sauer Rifle: कितनी घातक हैं सिग सॉर राइफल्स? LAC पर तैनात जवानों की कितनी बढ़ेगी ताकत

Sig-716 अमेरिका और स्विट्जरलैंड में बनती है। यह पूरी तरह से ऑटोमैटिक असॉल्ट राइफल है। भारत ने पिछले साल 70 हजार राइफल्स के लिए 700 करोड़ रुपये में डील की थी।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Kuldeep Singh
February 16, 2024 08:32 IST
sig sauer rifle  कितनी घातक हैं सिग सॉर राइफल्स  lac पर तैनात जवानों की कितनी बढ़ेगी ताकत
भारत ने LAC पर तैनात जवानों को सिग सॉर राइफल से लैस किया है। (ANI)
Advertisement

चीन से सटी सीमा पर तैनात जवानों को सेना ने अत्याधुनिक हथियारों से लैस किया है। LAC पर चीन के साथ लगातार चालबाजी की खबरों के बाद सेना इस इलाके में ना सिर्फ अपने इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत कर रही है बल्कि जवानों को भी घातक हथियार दिए गए हैं। हाल ही में जवानों को सिग सॉर सिग-716 असॉल्ट राइफल (Sig Sauer Sig-716 Assault Rifle), लाइट वेट रॉकेट लॉन्चर मार्क-4 और LMG से लैस किया गया है। इससे जवान दुश्मन के हर हमले को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार हैं।

Advertisement

कितनी घातक है सिग सॉर राइफल?

Sig-716 अमेरिका और स्विट्जरलैंड में बनती है। यह पूरी तरह से ऑटोमैटिक असॉल्ट राइफल है। भारत ने पिछले साल 70 हजार राइफल्स के लिए 700 करोड़ रुपये में डील की थी। इससे पहले 2019 में 72 हजार से ज्यादा सिग सॉर असॉल्ट राइफल्स मंगाई गई थीं। इस राइफल्स को चीन और पाक से सटी सीमा पर तैनात जवानों को दिया जाना है। इस राइफल की खासियत के कारण ही इसे कश्मीर से आतंकियों के सफाए के लिए चलाए जा रहे ऑपरेशन में इस्तेमाल किया गया।

Advertisement

स्नाइपर हमले में होता है इस्तेमाल

सिग सॉर राइफल लंबी रेंज का निशाना लगाने के लिए इस्तेमाल में लाई जाती है। इसकी सटीकता 100 फीसदी है। इसी कारण इसका इस्तेमाल स्नाइपर हमले में भी किया जाता है। राइफल की कुल लंबाई 34.39 इंच है। इसका कुल वजन 3.58 किलोग्राम होता है। इसकी एक मैगजीन में 20 गोलियां आती हैं। इसके अलावा इसमें ऊपर एडजस्टेबल फ्रंट और रीयर ऑप्टिक्स लगा सकते हैं। इससे दूर बैठे दुश्मन को ढेर करने में मदद मिलती है। इसकी रेंज 600 मीटर तक होती है। इससे हर मिनट 685 राउंड फायर किए जा सकते हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो