scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

West Bengal: विवाह करवाने के लिए अब जरूरी है बायोमेट्रिक, जानिए ममता सरकार ने क्यों लिया यह फैसला

West Bengal: एक अधिकारी ने बताया कि बीते कई सालों से ऐसी घटनाएं सामने आई हैं, जब लड़के या लड़की के हस्ताक्षर से विवाह की रजिस्ट्री हो गई, जबकि घटनास्थल पर वे मौजूद ही नहीं थे। पढ़िए रंजीत लुधियानवी की रिपोर्ट।
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: November 16, 2023 00:05 IST
west bengal  विवाह करवाने के लिए अब जरूरी है बायोमेट्रिक  जानिए ममता सरकार ने क्यों लिया यह फैसला
West Bengal: पश्चिम बंगाल में विवाह करवाने के लिए अब बायोमेट्रिक जरूरी। (सांकेतिक फोटो)
Advertisement

West Bengal: भले ही बायोमेट्रिक को लेकर साइबर ठगी के मामलों में वृद्धि हुई है, लेकिन लगातार इसका प्रचलन बढ़ता ही जा रहा है। अब राज्य सरकार ने बंगाल में विवाह करवाने के लिए बायोमेट्रिक को अनिवार्य कर दिया है। हालांकि, फिलहाल विवाह का पंजीकरण करवाने के लिए पति-पत्नी किसी एक का बायोमेट्रिक अनिवार्य किया गया है। साथ ही रजिस्ट्री के दौरान दंपति समेत तीन लोगों के बायोमेट्रिक के निशान लिए जाएंगे।

कानून विवाह के रजिस्ट्रार जनरल मैरेज की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि नया नियम 1 नवंबर से लागू हो गया है। इससे अब अगर किसी को भी विवाह की रजिस्ट्री करवानी है, तो नया नियम लागू होगा।

Advertisement

एक अधिकारी ने बताया कि बीते कई सालों से ऐसी घटनाएं सामने आई हैं, जब लड़के या लड़की के हस्ताक्षर से विवाह की रजिस्ट्री हो गई, जबकि घटनास्थल पर वे मौजूद ही नहीं थे। फर्जी दस्तखत करके यह रजिस्ट्री करवा ली जाती है। इतना ही नहीं, संबंधित पोर्टल पर फर्जी तस्वीर देने के बाद भी कई लोगों को मैरेज सर्टीफिकेट भी मिल गया। इस तरह की गड़बड़ी को रोकने के लिए ही बायोमेट्रिक को शुरू किया गया है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो