scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

AAP के हाथ से फिसला स्वाति मालीवाल मुद्दा, समझिए चुनाव प्रचार में कैसे भुना रही बीजेपी

भारतीय जनता पार्टी ने स्वाति मालिवाल के मुद्दे को लोकसभा चुनाव में भुनाया है। पढ़िये जतिन आनंद की रिपोर्ट।
Written by: ईएनएस
नई दिल्ली | Updated: May 22, 2024 00:09 IST
aap के हाथ से फिसला स्वाति मालीवाल मुद्दा  समझिए चुनाव प्रचार में कैसे भुना रही बीजेपी
आप की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल। (इमेज-पीटीआई)
Advertisement

BJP Delhi Poll Strategy: अरविंद केजरीवाल के आवास पर स्वाति मालीवाल पर कथित हमले का विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। ऐसा लगता है कि भारतीय जनता पार्टी को आम आदमी पार्टी के लोकसभा चुनाव अभियान से निपटने का एक आसान तरीका मिल गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस महीने की शुरुआत से अंतरिम जमानत पर हैं और इसके बाद चुनाव प्रचार अभियान में तेजी देखने को मिली है।

आम आदमी पार्टी का चुनावी फोकस महिलाओं पर रहा है। इसको एक आसान उदाहरण के जरिये समझ सकते हैं। मार्च में केजरीवाल सरकार ने महिलाओं को हर महीने 1000 रुपये देने की घोषणा की थी और चुनावी कैंपेन में पार्टी ने कहा कि बीजेपी यह पैसा रोकना चाहती है। हालांकि, अब भाजपा ने आप की राज्यसभा सांसद मालीवाल पर हुए कथित हमले को लेकर केजरीवाल और उनकी पार्टी पर हमला बोला हुआ है।

Advertisement

बीजेपी ने आप को किया टारगेट

दिल्ली में इंडिया अलायंस का मुकाबला करने के लिए भारतीय जनता पार्टी के चुनावी कैंपेन की रणनीति कांग्रेस से ज्यादा आम आदमी पार्टी को निशाना बनाना रही है। ऐसा इसलिए हैं क्योंकि आप को दिल्ली में एक मजबूत विपक्ष के रूप में देखा जाता है। यहां पर 25 मई को छठे फेज में वोटिंग होनी है। भाजपा ने ना केवल केजरीवाल सरकार के भ्रष्टाचार बल्कि केंद्र सरकार का दिल्ली के विकास में योगदान पर भी फोकस किया हुआ है।

भारतीय जनता पार्टी ने शुरुआत में आप की कल्याणकारी योजनाओं का मुकाबला केंद्रीय कल्याणकारी योजनाओं से किया। इतना ही नहीं बल्कि महिला वोटर्स को इशारा देते हुए बताया कि कैसे अब वापस ली गई शराब नीति ने उनके पतियों और बेटों को शराब की लत में धकेल दिया है। लेकिन मालीवाल के आरोप सामने आने के तुरंत बाद तेजी से रणनीति में बदलाव किया गया। इसके बाद भाजपा ने शहर के झुग्गी-झोपड़ी और बस्तियों में अपने अभियान को बताना शुरू कर दिया। यह सभी आम आदमी पार्टी की फ्री बस सेवा, बिजली और पानी सब्सिडी योजनाओं का ज्यादा लाभ लेते हैं।

हालांकि, उनका फोकस महिलाओं के कल्याण की योजनाओं से हटकर AAP के द्वारा महिलाओं के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है, इस पर आ गया है। पिछले शनिवार को दिल्ली में रैली में पीएम मोदी ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि भ्रष्ट व्यक्तियों ने एक दूसरे को सुरक्षा देने के लिए सीट शेयरिंग की है। वहीं, दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा से लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी स्वाति मालीवाल के मुद्दे पर ज्यादा फोकस किया।

Advertisement

जेपी नड्डा ने महिला के दुर्व्यवहार के मुद्दे को उठाया

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पूछा कि निर्भया कांड को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल विजय चौक पर धरने पर बैठते थे। आज उसी मुख्यमंत्री के ड्राइंग रूम में एक महिला के साथ कैसा दुर्व्यवहार हो रहा है? यह कैसा पाखंड है? पिछले दो दिनों में लोकसभा चुनाव अभियान के तहत राष्ट्रीय राजधानी का दौरा करने वाले भाजपा नेताओं शिवराज सिंह चौहान और माधवी लता ने भी इसी मुद्दे को उठाया है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बीजेपी चांदनी चौक, उत्तर पूर्व और पश्चिमी दिल्ली में अपने प्रदर्शन को लेकर काफी चिंतित है। खासतौर से झुग्गी-झोपड़ी और अल्पसंख्यक आबादी को लेकर, इनके बीच में ही आम आदमी पार्टी का मजबूत जनाधार है। भाजपा नेतृत्व का मानना ​​है कि पिछली दो बार की तरह 7-0 का सफाया एक बेहतर नतीजा था। मुकाबले को अपनी तरफ करने के लिए पार्टी अब पीएम मोदी की दूसरी रैली कराने की तैयारी कर रही है। यह रैली बुधवार को होने की उम्मीद है।

बीजेपी के एक सूत्र ने कहा कि हमारे जमीनी सर्वेक्षणों से पता चलता है कि हमारे नेता मालीवाल के आसपास के मुद्दों को वोटर्स तक सही तरीके से पहुंचा रहे हैं। खासकर झुग्गी और झोपड़ियों में, जहां पर ज्यादा महिला वोटर्स सकारात्मक प्रतिक्रिया दे रही हैं। इस बीच, आप ने पलटवार करते हुए कहा कि मालीवाल के आरोपों का कोई प्रभाव नहीं पड़ा है और ये भाजपा की ध्यान भटकाने वाली रणनीति का हिस्सा हैं।

बीजेपी ने इन चुनावी मुद्दों पर किया फोकस

भारतीय जनता पार्टी ने आम आदमी पार्टी के खिलाफ लगातार भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। इसमें दिल्ली के शराब घोटाले समेत अन्य घोटाले शामिल हैं। इसके अलावा उज्ज्वला योजना, आयुष्मान भारत योजना और अनधिकृत कॉलोनियों को पक्का करने पर ज्यादा ध्यान दे रही है। भाजपा केंद्र की FAME योजना के तहत ई-बसें, नेशनल हाईवे और NAMO भारत ट्रेनों के बारे में भी बात कर रही है।

इनके अलावा जी-20 शिखर सम्मेलन, राष्ट्रीय युद्ध और पुलिस स्मारक, प्रधानमंत्री म्यूजियम, नया संसद भवन और सेंट्रल विस्टा परियोजना का भी बीजेपी चुनाव में इस्तेमाल कर रही है। इससे दिल्ली राजधानी की तरह दिखाई भी देगी और महसूस भी होगी। इतना ही नहीं, पार्टी प्रदूषण को कम करने और सीवर की बेहतर व्यवस्था करने का भी वादा कर रही है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो