scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Punjab Politics: 2024 से पहले बिखर जाएगा इंडिया गठबंधन का कुनबा? बठिंडा रैली में सिद्धू ने कैप्टन, चन्नी और AAP पर चुन-चुनकर किए वार

Punjab Politics: नवजोत सिंह सिद्दू ने कहा कि पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में जो वादे केजरीवाल और भगवंत मान ने पंजाब की जनता से किए थे, उनको पूरा नहीं किया।
Written by: नवजीवन गोपाल
Updated: December 18, 2023 15:25 IST
punjab politics  2024 से पहले बिखर जाएगा इंडिया गठबंधन का कुनबा  बठिंडा रैली में सिद्धू ने कैप्टन  चन्नी और aap पर चुन चुनकर किए वार
Navjot Singh Sidhu: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नवजोत सिंह सिद्दू। (फोटो सोर्स: ANI)
Advertisement

Loksabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव को लेकर पंजाब में राजनीति तेज हो चली है। यही वजह की आम आदमी पार्टी की नजर पंजाब में सत्ता हासिल करने की बाद अब राज्य की लोकसभा सीटों पर है। जिससे वो इंडिया गठबंधन में सौदेबाजी की दहलीज पर अपने कदम मजबूती से रख सके। इसी कड़ी में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी ने रविवार को बठिंडा जिले के मौर में अपनी 'विकास क्रांति रैली' आयोजित की। इस रैली में आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल और पंजाब सीएम भगवंत मान ने विपक्ष पर निशााना साधा। लेकिन सबसे खास बात यह थी कि इसे जिले में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने भी रैली की।

नवजोत सिंह सिद्धू ने अपनी रैली में इंडिया गठबंधन में शामिल और राज्य में सत्तारुढ़ आम आदमी पार्टी समेत विपक्षी दलों के नेताओं पर चुनकर वार किए। सिद्दू ने इस दौरान अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान पर निशाना साधा। सिद्दू ने कहा कि पिछले साल राज्य विधानसभा चुनाव से पहले इन दोनों नेताओं ने पंजाब की जनता से जो वादे किए थे, उनको पूरा नहीं किया।

Advertisement

अमरिंदर सिंह पर जमकर बरसे सिद्धू

सिद्धू ने यह रैली मौर से करीब 32 किलोमीटर दूर मेहराज गांव में रैली की। लगभग 18,000 की आबादी के साथ यह पंजाब के पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह का पैतृक गांव है, जो सिद्दू के कट्टर विरोधी हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने अपने लगभग 40 मिनट के संबोधन के दौरान पंजाब सीएम भगवंत मान और केजरीवाल को लताड़ने के अलावा पिछले साल हुए पंजाब विधानसभा चुनाव में पार्टी की हार का जिम्मेदार अमरिंदर सिंह को ठहराते हुए जमकर हमला बोला। अमरिंदर सिंह अब बीजेपी के साथ हैं।

नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा, ''मैंने कैप्टन अमरिंदर सिंह से कहा कि उनका गौरवशाली अतीत है। इसलिए उन्हें उस गौरव को बरकरार रखना चाहिए और लोगों के लिए काम करके इतिहास में अपना नाम दर्ज कराना चाहिए…लेकिन अब वह कहां हैं? पार्टी (कांग्रेस) ने उन्हें निष्कासित कर दिया।'

Advertisement

'दूध देने वाली बकरियां का कितना प्रभाव पड़ा'

सिद्धू ने अमरिंदर सिंह के उत्तराधिकारी पूर्व सीएम चरणजीत सिंह चन्नी पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि हर कोई जानता है कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनावों में पार्टी (कांग्रेस) की संभावनाओं पर “दूध देने वाली बकरियों” का कितना प्रभाव पड़ा।

Advertisement

चन्नी को पिछले साल चुनाव पूर्व अभियान के दौरान बकरियों का दूध निकालते हुए देखा गया था, जो शायद पंजाब में खुद को "आम आदमी" के रूप में पेश करने के उनके कई कदमों में से एक था, क्योंकि कांग्रेस ने उन्हें सीएम चेहरे के रूप में पेश करते हुए चुनाव लड़ा था, लेकिव इन सबके बावजूद कांग्रेस को आम आदमी पार्टी के हाथों हार का सामना करना पड़ा था।

कांग्रेस नेता सिद्धू ने कहा, ''मुझे चन्नी के पार्टी सहयोगी होने से कोई दिक्कत नहीं है। उनके (अमरिंदर सिंह) के बाद, मैंने चन्नी से भी कहा कि कृपया अपना सब कुछ लगा दें और पूरे दिल से लोगों के लिए चार महीने (चुनाव से पहले सीएम के रूप में अपने कार्यकाल के) समर्पित करें। लेकिन नतीजा आप सबके सामने है… क्या पंजाब ने बकरियों का दूध दुहकर खुद को पुनर्जीवित किया?'

अवैध रेत खनन के मुद्दे का जिक्र करते हुए सिद्धू ने कहा कि जिस रेत टिपर की कीमत पहले "3,000 रुपये" थी, अब उसकी कीमत "21,000 रुपये" हो गई है। उन्होंने रेत खनन से 20,000 करोड़ रुपये राजस्व का वादा करने के लिए मान और केजरीवाल पर निशाना साधा, लेकिन “आप सरकार केवल 125 करोड़ रुपये ही एकत्र कर सकी।”

पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व प्रमुख ने 18 वर्ष और उससे अधिक उम्र की प्रत्येक पंजाब महिला को प्रति माह 1,000 रुपये भत्ता देने के चुनाव पूर्व वादे को पूरा नहीं करने के लिए आप नेताओं पर भी हमला बोला।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो