scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

भूटान दौरे पर पहुंचे PM मोदी, एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत, प्रधानमंत्री शेरिंग टोबगे ने लगाया गले

PMO ने कहा कि भारत और भूटान के बीच आपसी विश्वास, समझ और सद्भावना पर आधारित एक अनूठी और स्थायी साझेदारी है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: shruti srivastava
नई दिल्ली | Updated: March 22, 2024 11:03 IST
भूटान दौरे पर पहुंचे pm मोदी  एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत  प्रधानमंत्री शेरिंग टोबगे ने लगाया गले
भूटान दौरे पर पहुंचे PM मोदी (Source- Express)
Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को भूटान के राजकीय दौरे पर थिंपू पहुंचे। आधिकारिक राजकीय यात्रा पर पहुंचे पीएम का पारो अंतरराष्ट्रीय एयर पोर्ट पर गर्मजोशी से स्वागत किया गया। पीएम मोदी 22 से 23 मार्च तक पड़ोसी देश रहेंगे। इस यात्रा के दौरान, प्रधानमंत्री मोदी भूटान के नरेश जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक और भूटान के पूर्व नरेश जिग्मे सिंग्ये वांगचुक से मुलाकात करेंगे। प्रधानमंत्री भूटान के अपने समकक्ष शेरिंग टोबगे के साथ भी बातचीत करेंगे।

प्रधानमंत्री मोदी ने 'एक्स' पर एक पोस्ट में कहा, "भूटान के रास्ते में हूं, जहां मैं भारत-भूटान साझेदारी को और मजबूत करने के उद्देश्य से विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लूंगा।" उन्होंने कहा कि वह भूटान के नरेश और प्रधानमंत्री सहित अन्य नेताओं के साथ बातचीत को लेकर उत्सुक हैं। इससे पहले, प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) ने एक बयान में कहा था कि यह यात्रा भारत और भूटान के बीच नियमित रूप से होने वाली उच्चस्तरीय आदान-प्रदान की परंपरा और सरकार की पड़ोसी प्रथम की नीति पर जोर देने की कवायद के अनुरूप है।

Advertisement

पीएम मोदी को मिलेगा भूटान का सर्वोच्च नागरिक सम्मान

PM मोदी का राजधानी थिंपू के ताशीछोड़ज़ोंग परिसर में औपचारिक स्वागत किया जाएगा। यहां वो भूटान के राजा से मुलाकात करेंगे। दोनों देशों के प्रधानमंत्री ऊर्जा संरक्षण और खाद्य सुरक्षा मानकों पर सहयोग से जुड़े समझौतों पर साइन करेंगे। भूटान प्रधानमंत्री मोदी को अपने सर्वोच्च नागरिक सम्मान, ऑर्डर ऑफ द ड्रुक ग्यालपो से नवाजेगा। यह सम्मान भूटान के राजा उन्हें देंगे। इसके अलावा भूटान के राजा जिग्मे वांगचुक भारत-भूटान संबंधों को मजबूत करने और कोरोना के समय मदद करने के लिए पीएम मोदी को एक अन्य अवॉर्ड से भी सम्मानित करेंगे। भूटान में आज सभी स्कूल बंद हैं। सभी छात्र उनका स्वागत करने के लिए एक्सप्रेस हाईवे पर पहुंच गए हैं।

PMO ने कहा कि भारत और भूटान के बीच आपसी विश्वास, समझ और सद्भावना पर आधारित एक अनूठी और स्थायी साझेदारी है। पीएमओ ने कहा, "हमारी साझी आध्यात्मिक विरासत और दोनों देशों के लोगों के बीच मधुर संबंध हमारे असाधारण संबंधों में घनिष्ठता और जीवंतता का समावेश करते हैं।" उसने कहा कि यह यात्रा दोनों पक्षों को पारस्परिक हित के द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मामलों पर विचारों का आदान-प्रदान करने और दोनों देशों के लोगों के लाभ के लिए आपसी अनुकरणीय साझेदारी को विस्तारित और मजबूत करने के तौर-तरीकों पर विचार-विमर्श करने का अवसर प्रदान करेगी।

Advertisement

भूटान के प्रधानमंत्री का भारत दौरा

इससे पहले भूटान के प्रधानमंत्री शेरिंग टोबगे पिछले हफ्ते भारत की पांच दिवसीय यात्रा पर थे। जनवरी में प्रधानमंत्री का पदभार संभालने के बाद यह उनकी पहली विदेश यात्रा थी। अपनी यात्रा के दौरान उन्होंने राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु और प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की थी। उन्होंने विभिन्न उद्योगों के प्रमुखों के साथ बैठकें करने के अलावा कई अन्य कार्यक्रमों में शिरकत की थी।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो