scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'PM मोदी चीन पर एक शब्द नहीं बोलते', कच्चातिवु द्वीप को लेकर चिदंबरम का प्रधानमंत्री मोदी पर वार

Katchatheevu controversy: विदेश मंत्री एस जयशंकर के कच्चातिवु द्वीप को लेकर दिए गए बयान पर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने पलटवार किया है।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | April 01, 2024 17:13 IST
 pm मोदी चीन पर एक शब्द नहीं बोलते   कच्चातिवु द्वीप को लेकर चिदंबरम का प्रधानमंत्री मोदी पर वार
कांग्रेस नेता पी चिदंबरम। (इमेज- पीटीआई)
Advertisement

Katchatheevu controversy: देश के पूर्व गृहमंत्री पी चिदंबरम ने पीएम मोदी और उसके सहयोगी डीएमके के खिलाफ लगाए जा रहे आरोपों पर पलटवार करते हुए सवालिया लहजे में कहा कि चीन लगातार भारतीय क्षेत्र पर कब्जा कर रहा है। लेकिन पीएम मोदी उस विषय पर एक भी शब्द नहीं बोलते हैं, क्या उन्होंने चीन को क्लीन चिट दे दी है।

पी चिदंबरम ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी उस मुद्दे को क्यों उठा रहे जो 1974 में ही सुलझा लिया गया था। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी की सरकार ने लाखों तमिलों की मदद करने के लिए श्रीलंका के साथ बातचीत की थी। कच्चातिवु द्वीप को श्रीलंका का भाग माना गया था। उसके बदले में 6 लाख तमिलों को भारत आने की इजाजत दी गई थी। यह मुद्दा 50 साल पहले ही बंद कर दिया गया था।

Advertisement

इससे पहले आज विदेश मंत्री एस जयशंकर ने दावा करते हुए कहा था कि कांग्रेस के पीएम ने कच्चातिवु द्वीप को लेकर ज्यादा उत्सुकता नहीं दिखाई थी। इसके उलट कानूनी विचारों के बावजूद भारतीय मछुआरों के अधिकारों की अनदेखी की गई। उन्होंने कहा कि जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी जैसे प्रधानमंत्रियों ने 1974 में समुद्री सीमा समझौते के तहत श्रीलंका को दिए गए कच्चातिवु को छोटा द्वीप और छोटी चट्टान बताया था।

चिदंबरम ने जयशंकर पर किया पलटवार

विदेश मंत्री के बयान पर वार करते हुए चिदंबरम ने कहा कि 25 जनवरी, 2015 को एमईए ने एक आरटीआई के जवाब का हवाला दिया। उन्होंने कहा कि इस आरटीआई जवाब ने उन चीजों को सही ठहराया था जिसके तहत भारत ने माना था कि एक छोटा द्वीप श्रीलंका का है। उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि विदेश मंत्री और उनका मंत्रालय ऐसा क्यों कर रहा है? लोग कितनी जल्दी अपने रंग में बदलाव लाते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जयशंकर का जीवन कलाबाजी खेलों के इतिहास में दर्ज किया जाएगा।

Advertisement

पीएम मोदी को चीन विवाद का करना चाहिए जिक्र

चिदंबरम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर वार करने के लिए 2020 में लद्दाख में भारत के साथ हुए चीन के विवाद का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि 2000 वर्ग किलोमीटर भारत के क्षेत्र पर चीन के सैनिकों ने कब्जा कर लिया है। पीएम मोदी का कहना है कि कोई भी चीन का सैनिक भारतीय क्षेत्र में मौजूद नहीं है। भारत के क्षेत्र का कोई भी हिस्सा चीनी सैनिकों के कब्जे में नहीं है। क्या पीएम मोदी ने चीन को क्लीन चिट दे दी है। उन्हें इस बारे में बात करनी चाहिए कि 50 साल पहले क्या हुआ था या पिछले तीन साल में क्या हुआ, इस मुद्दे पर बात करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं पीएम से इस बारे में बोलने का आग्रह करूंगा।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो