scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'आप कितनी बार बच्चे की तरह रोएंगे…' एकनाथ शिंदे का उद्धव ठाकरे पर जोरदार हमला, कहा- आपने एक बहुत बड़ी गलती की

Maharashtra Politics: एकनाथ शिंदे ने कहा, 'आप कितनी बार छोटे बच्चे की तरह रोएंगे। ग्राम पंचायत चुनाव में उनकी पार्टी छठे स्थान पर रही, जबकि हम दूसरे स्थान पर रहे। लोकसभा चुनाव में हमें उनसे ज़्यादा वोट मिले। आप कितनी बार कहेंगे कि हमने (पार्टी का चिन्ह) चुराया है।'
Written by: vivek awasthi
Updated: July 07, 2024 19:17 IST
 आप कितनी बार बच्चे की तरह रोएंगे…  एकनाथ शिंदे का उद्धव ठाकरे पर जोरदार हमला  कहा  आपने एक बहुत बड़ी गलती की
Maharashtra Politics: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे पर जोरदार हमला बोला है। (फाइल)
Advertisement

Maharashtra Politics: शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने रविवार को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे पर पार्टी का चुनाव चिन्ह (धनुष और तीर) चुराने का आरोप लगाया था। जिसके बाद एकनाथ शिंदे ने उद्धव ठाकरे पर पलटवार किया है। शिंदे ने कहा कि उन्होंने दिवंगत शिवसेना सुप्रीमो बालासाहेब ठाकरे के विचारों को त्याग कर बहुत बड़ी गलती की है। इसका उन्हें एहसास होगा।

Advertisement

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में शिव संकल्प मेला को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने शिंदे खेमे पर हमला करते हुए कहा कि बालासाहेब की शिक्षाओं के साथ, उन्हें मशाल (यूबीटी पार्टी का प्रतीक) का उपयोग करके लड़ाई जीतने पर गर्व है, भले ही धनुष और तीर (शिवसेना का प्रतीक) उनसे 'चुराया' गया।

Advertisement

उद्धव ठाकरे ने भाजपा, शिवसेना (शिंदे) और राकांपा (अजित पवार) वाली महायुति सरकार द्वारा बजट में घोषित योजनाओं की भी आलोचना की और कहा कि यह राज्य में अक्टूबर में होने वाले संभावित चुनावों से पहले मतदाताओं को लुभाने की चाल है।

ठाकरे की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए एकनाथ शिंदे ने कहा, "आप कितनी बार छोटे बच्चे की तरह रोएंगे। ग्राम पंचायत चुनाव में उनकी पार्टी छठे स्थान पर रही, जबकि हम दूसरे स्थान पर रहे। लोकसभा चुनाव में हमें उनसे ज़्यादा वोट मिले। आप कितनी बार कहेंगे कि हमने (पार्टी का चिन्ह) चुराया है। शिंदे ने आगे दावा किया कि लोग उनके पक्ष में मतदान कर रहे हैं क्योंकि ठाकरे खेमे ने बालासाहेब ठाकरे के विचारों को त्याग दिया है।

शिंदे ने कहा, 'हमने 13 सीटों पर चुनाव लड़ा (लोकसभा में) और 7 जीते। हमें 2 लाख ज़्यादा वोट मिले। उनका स्ट्राइक रेट 42 प्रतिशत था, हमारा 47 प्रतिशत। लोगों ने पुष्टि कर दी है कि शिवसेना किसकी है। शिवसेना का मूल मतदाता हमारे साथ है, और उन्हें विधानसभा चुनावों में यह पता चल जाएगा।" शिंदे ने यह भी दावा किया कि वे (विधानसभा सीटें) हार जाएंगे और उन्हें बाद में शिवसेना सुप्रीमो बने के विचारों को त्यागने के परिणाम भुगतने होंगे।

Advertisement

ठाकरे पर कटाक्ष करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह खुशी की बात है कि जो पहले (उद्धव ठाकरे) अपने घर के गेट से बाहर नहीं निकलते थे, वो अब किसानों से उनके खेतों में मिल रहे हैं। शिंदे ने कहा कि विधानसभा चुनाव में मतदाता उनके (एमवीए) और हमारे (महायुति) द्वारा किए गए कार्यों की तुलना करेंगे। बता दें, हाल ही में हुए लोकसभा चुनावों में शिवसेना (यूबीटी) ने 21 सीटों पर चुनाव लड़कर नौ सीटें जीतीं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो