scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

UP-Bihar के यादव मतदाताओं तक कैसे पहुंचेंगे मोहन यादव? मुस्लिम आरक्षण को लेकर MP सीएम ने कही बड़ी बात

मोहन यादव के मुख्यमंत्री बनाने के पीछे की रणनीति यूपी-बिहार में यादव वोटर्स तक पहुंच है।
Written by: Anand Mohan J | Edited By: Nitesh Dubey
नई दिल्ली | Updated: May 12, 2024 19:27 IST
up bihar के यादव मतदाताओं तक कैसे पहुंचेंगे मोहन यादव  मुस्लिम आरक्षण को लेकर mp सीएम ने कही बड़ी बात
मोहन यादव ने मुस्लिम आरक्षण को लेकर बड़ा बयान दिया। (FACEBOOK PHOTO)
Advertisement

लोकसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक दलों का चुनाव प्रचार जारी है। मध्य प्रदेश में बीजेपी का फोकस सभी 29 लोकसभा सीटें जीतने पर है। मध्य प्रदेश में बीजेपी ने विधानसभा चुनाव बाद नेतृत्व परिवर्तन भी किया और मोहन यादव को मुख्यमंत्री बनाया। मोहन यादव के मुख्यमंत्री बनाने के पीछे की रणनीति यूपी-बिहार में यादव वोटर्स तक पहुंच है। इन सब मुद्दों को लेकर मोहन यादव ने द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत की।

यादव मतदाताओं तक कैसे पहुंचेंगे मोहन यादव?

मोहन यादव से पूछा गया कि बीजेपी ने आपको यादव मतदाताओं तक पहुंचने के लिए पिछले कुछ महीनों में यूपी और बिहार का दौरा करने का काम सौंपा है? इसके जवाब में मोहन यादव ने कहा, "बीजेपी जाति, वंश या परंपरा नहीं देखती। मैं एक मजदूर का बेटा हूं। केवल भाजपा ही है जो किसी भी पार्टी कार्यकर्ता को मौका दे सकती है। यादव समुदाय से होने के नाते अगर मैं देशवासियों से कह सकता हूं कि इस देश में हर समुदाय के लोगों को समान अवसर मिल रहे हैं, तो इसमें गलत क्या है? हमारा देश अपनी विविधता के लिए जाना जाता है।"

Advertisement

मुस्लिम आरक्षण पर दिया जवाब

इसके बाद मोहन यादव से पूछा गया कि बीजेपी का आरोप है कि सत्ता में आने पर कांग्रेस मुसलमानों को ओबीसी के हिस्से से आरक्षण देगी? इसके जवाब में उन्होंने कहा, "अफवाहों या आरोपों के बजाय तथ्यों पर भरोसा करना जरूरी है। कांग्रेस ने झूठ बोलने और देश को धोखा देने के अलावा कुछ नहीं किया है। पिछले 10 वर्षों में पीएम मोदी ने आरक्षण समाप्त नहीं किया और ऐतिहासिक रूप से हाशिए पर रहने वाले समुदायों के लिए सामाजिक न्याय और समान अवसर सुनिश्चित करने के लिए किसी से भी अधिक मेहनत की है। मौजूदा आरक्षण व्यवस्था धार्मिक पहचान पर नहीं, बल्कि सामाजिक और आर्थिक मानदंडों पर आधारित है।"

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मोहन यादव ने कहा, "कांग्रेस ने अपने पूरे कार्यकाल में केवल संविधान का अपमान किया है। जब इंदिरा गांधी ने राजनीतिक सत्ता बरकरार रखने के लिए आपातकाल लगाया तो कांग्रेस ने संविधान की आत्मा की हत्या कर दी। कांग्रेस नेता जो आशीर्वाद लेने के लिए राम मंदिर भी नहीं गए, वे संविधान के बारे में बात कर रहे हैं। उन्होंने अपना नैतिक आधार खो दिया है। पिछले 10 वर्षों से पीएम मोदी वर्षों ने संविधान की मूल संरचना को बनाए रखने के अलावा कुछ नहीं किया है।"

Advertisement

कांग्रेस के धन वितरण पर मोहन यादव ने कहा, "कांग्रेस ने लोगों का धन छीनकर घुसपैठियों में बांटने की साजिश रची है और इसीलिए वे नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे हैं और धन के पुनर्वितरण की बात कर रहे हैं। यह और कुछ नहीं बल्कि एक और घोटाला है।"

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो