scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Lok Sabha Polls: 'अब जजों का स्वागत चोर कर रहे', बीजेपी के साथ कांग्रेस पर भी बरसे TMC नेता अभिषेक बनर्जी; जानिए 30 मिनट के भाषण में क्या कुछ कहा

Lok Sabha Elections: अभिषेक बनर्जी ने रविवार को पार्टी की 'Jonogorjon' रैली में भाजपा को बाहरी बताया। अभिषेक ने मौजूद जनता से पूछा कि आप किसकी गारंटी पर भरोसा करते हैं? मोदी या दीदी?
Written by: vivek awasthi
कोलकाता | Updated: March 10, 2024 14:24 IST
lok sabha polls   अब जजों का स्वागत चोर कर रहे   बीजेपी के साथ कांग्रेस पर भी बरसे tmc नेता अभिषेक बनर्जी  जानिए 30 मिनट के भाषण में क्या कुछ कहा
Lok Sabha Polls: टीएमसी महासचिव अभिषेक बनर्जी। (एक्सप्रेस फाइल)
Advertisement

TMC Jonogorjon Rally Kolkata: कोलकाता के ऐतिहासिक ब्रिगेड परेड ग्राउंड में रविवार को तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने लोकसभा चुनाव को लेकर अपने अभियान की शुरुआत की। इस दौरान टीएमसी महासचिव अभिषेक बनर्जी ने बीजेपी, कांग्रेस और लेफ्ट पर जमकर निशाना साधा। अभिषेक बनर्जी ने कहा कि बीजेपी ही नहीं, बल्कि हमारी लड़ाई कांग्रेस और लेफ्ट से भी है।

पिछले सप्ताह भाजपा में शामिल हुए कलकत्ता हाई कोर्ट के पूर्व जज अभिजीत गांगुली पर कटाक्ष करते हुए अभिषेक ने कहा, "मैं न्यायपालिका के खिलाफ एक शब्द भी नहीं कहना चाहता, लेकिन अब जजों का स्वागत चोरों द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि 'मोदी की गारंटी' की कोई गारंटी नहीं है, भ्रष्ट लोग बीजेपी में शामिल हो रहे हैं।

Advertisement

अभिषेक बनर्जी ने रविवार को पार्टी की "Jonogorjon" रैली में भाजपा को बाहरी बताया। अभिषेक ने मौजूद जनता से पूछा कि आप किसकी गारंटी पर भरोसा करते हैं? मोदी या दीदी? दीदी ने कन्याश्री का वादा किया था, वो वादा पूरा हुआ। उन्होंने कहा कि मुफ्त राशन दिया जाएगा, भी दिया। उन्होंने स्वास्थ्य कार्ड का वादा किया था, वो भी किया।

टीएमसी नेता ने तंज भरे लहजे में कहा क्या क्या आप उन लोगों की गारंटी पर भरोसा कर सकते हैं, जो हमारी भाषा नहीं समझ सकते, बांग्ला पढ़ और बोल नहीं सकते? क्या दिल्ली से आने वाले भाजपा नेता अपने मंच के पीछे जो लिखा है उसे पढ़ सकते हैं?' बता दें, अभिषेक दोपहर करीब 12.45 बजे ब्रिगेड परेड मैदान पहुंचे। दोपहर 12.50 बजे अभिषेक मंच पर चढ़े और अगले 10 मिनट तक मंच पर घूम-घूम कर बीजेपी-कांग्रेस और लेफ्ट पर जमकर निशाना साधा।

अभिषेक ने कहा, "यह रैली साबित करती है कि आगामी चुनाव दिल्ली के बंगाल विरोधी बाबुओं, गुजरात के बाबुओं, आतंक का इस्तेमाल करने वालों के शासन को खत्म कर देंगे। उन्होंने कहा कि भाजपा के पास पैसा, संसाधन, चुनाव आयोग, मीडिया, न्यायपालिका का एक वर्ग, मीडिया, प्रवर्तन निदेशालय और सीबीआई है। हमारे साथ बंगाल की जनता है।”

Advertisement

अभिषेक ने कहा कि तृणमूल की लड़ाई सिर्फ भाजपा के खिलाफ नहीं है, बल्कि कांग्रेस और सीपीएम के साथ-साथ सभी केंद्रीय एजेंसियों के खिलाफ है। अभिषेक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पिछले तीन वित्तीय वर्षों में केंद्र द्वारा बंगाल सरकार को जारी किए गए फंड पर बहस की चुनौती दी।

Advertisement

टीएमसी महासचिव ने कहा कि अगर वे साबित कर सकें कि उन्होंने 2021-22, 2022-23, 2023-24 के वित्तीय वर्षों के लिए कोई धनराशि जारी की है तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा। मैं उन्हें उनके द्वारा जारी किए गए फंड पर एक श्वेत पत्र जारी करने की चुनौती देता हूं। अभिषेक ने कहा कि वे धन पर झूठ बोल रहे हैं। क्या आप झूठों की गारंटी स्वीकार कर सकते हैं? आप किसकी गारंटी स्वीकार करेंगे, दीदी की या मोदी की?”

अभिषेक ने पूछा कि उन्होंने ईश्वरचंद्र विद्यासागर की प्रतिमा तोड़ दी, क्या उन्होंने माफ़ी मांगी है? उन्होंने हमारे सिख भाई को खालिस्तानी कहा, क्या प्रधानमंत्री ने माफ़ी मांगी है? टीएमसी नेता ने कहा कि पहले चोर जेल जाते थे। अब वे बीजेपी में शामिल हो गए। प्रधानमंत्री भ्रष्टाचार की बात करते हैं, जबकि सबसे भ्रष्ट उनके बगल में बैठा है।”

टीएमसी महासचिव ने कहा कि रविवार की जोनोगोरजोन रैली पार्टी की नहीं बल्कि किसानों, श्रमिकों, गरीबों, छात्रों और युवाओं, अल्पसंख्यकों और केंद्र की नीतियों से वंचित लोगों की थी। यहां भारी भीड़ स्पष्ट संकेत है कि भाजपा का समय समाप्त हो गया है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो